ताज़ा खबर
 

Gold Investment : घर बैठकर आराम से खरीद सकते हैं सोना, ये हैं बेहतरीन ऑप्‍शन

अब आपको गोल्‍ड में निवेश करने के लिए किसी दुकान पर जाने की जरुरत नहीं है। आप घर बैठे भी गोल्‍ड में निवेश कर सकते हैं। गोल्‍ड में निवेश करने के लिए आज आपके गोल्‍ड ईटीएफ, गोल्‍ड म्‍यूचुअल फंड, सॉवरेन गोल्‍ड बांड और मोबाइल वॉलेट हैं। जिनके माध्‍यम से निवेश कर मुनाफा कमा सकते हैं।

गोल्ड में निवेश करना फायदेमंद माना जाता है। (Photo-Indian Express )

सोने में निवेश कर कमाई करने का मन है और कोरोना काल बाजार बंद होने की वजह से मौका नहीं मिल रहा है तो मायूस होने की बिल्‍कुल भी जरुरत नहीं है। मौजूदा समय सोने में निवेश के और भी ऑप्‍शन मौजूद हैं, जिसमें आप घर में बैठकर बिना किसी रिस्‍क गोल्‍ड में इंवेस्‍ट कर सकते हैं। खास बात तो ये है कि आपका रुपया डूबेगा नहीं। आपका निवेश सुरक्ष‍ित रहने के साथ क्‍वालिटी और रिटर्न की भी गारंटी है।

पहले आपको बता दें मौजूदा समय में वायदा बाजार में सोने की कीमत क्‍या चल रही है। वास्‍तव में वायदा बाजार शनिवार और रविवार को वायदा बाजार मल्‍टी कमोड‍िटी इंडेक्‍स बंद रहता है। ऐसे में शुक्रवार को सोने की कीमत 295 रुपए सस्‍ता होकर 48903 रुपए प्रति दस ग्राम पर बंद हुआ। जबकि इस सप्‍ताह सोने की कीमत में मात्र 91 रुपए प्रति दस ग्राम की गिरावट देखने को मिली है। ऐसे में जब सोना थोड़ा सस्‍ता हो रहा तो निवेश की संभावनाए पैदा होती हैं। आइए आपको भी बताते हैं किे घर बैठेबैठे आप सोने में निवेश कैसे कर सकते हैं।

गोल्‍ड ईटीएफ के माध्‍यम से करें निवेश : गोल्‍ड ईटीएफ का मतलब गोल्‍ड एक्‍सचेंज ट्रेडेड फंड है। इस तरह के सोने में वैसे ही होता है जैसे शेयर बाजार में शेयर खरीदे जाते हैं। इस तरह के पेपर गोल्‍ड में निवेश का ऑप्‍शन काफी बेहतर और सस्‍ता भी है। स्‍टॉक मार्केट में यह आसानी से अवेलेबल है। गोल्‍ड ईटीएफ का बेंचमार्क सर्राफा बाजार में तय सोने के दाम है। यानी जो सोने के दाम आपको सर्राफा बाजार में मिलते हैं आप उन्‍हीं दाम में गोल्‍ड ईटीएफ में निवेश कर सकते हैं। इसमें निवेश करने से पहले आपको निवेश करने से पहले डिमैट अकाउंट खुलवाना पड़ता है। यहां पर सोना यूनिट में खरीदा जाता है और इसे ब्रोकिंग ट्रेडिंग पोर्टल पर ऑनलाइन ऑर्डर किया जा सकता है। इसकी फिजिकल डिलिवरी नहीं होती है।

सॉवरेन गोल्‍ड बांड में मिलता है मोटा ब्‍याज : सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड भी निवेश का एक बेहतरीन ऑप्‍शन है। सॉवरेन गोल्‍ड बांड केंद्र सरकार की ओर से समयसमय पर मौजूदा भाव पर ही जारी किए जाते हैं। सॉवरेन गोल्‍ड बांड का मैच्योरिटी पीरियड आठ साल में होती है। जिसका लॉकइन पीरियड पांच साल है। जिसे पांच साल के बाद बेचा जा सकता है। खास बात तो ये है कि अगर आपने मैच्‍योरिटी पीरियड तक अपने बांड को बनाए रखते हैं तो आपको निवेश पर कैपिटल गेन टैक्स भी नहीं भरना होगा। इसके अलावा आपको 2.5 फीसदी का सालाना ब्याज मिलता है। जिसका भुगतान हर छह महीने में किया जाता है। गोल्‍ड बांड पर निवेश काफी सुरक्षि‍त रहता है। मैच्योरिटी के बाद उसके बदले में आपको रुपया मौजूदा भाव पर ही मिलता है। इसमें आप ऑनलाइन भी निवेश कर सकते हैं।

मोबाइल वॉलेट भी है ऑप्‍शन : मोबाइल वॉलेट्स भी अब आपको सोना खरीदने का ऑप्‍शन दे रहे हैं। अगर आपके रुपया थोड़ा है तो भी कोई परेशानी नहीं है। आप अपने स्‍मार्टफोन से कुछ ही मिनटों में गोल्‍ड में निवेश कर सकते हैं। मौजूदा समय में यह सुविधा पेटीएम, फोनपे, गूगल पे जैसे मोबाइल वॉलेट में उपलब्‍ध है।

गोल्‍ड म्‍यूचुअल फंड : गोल्‍ड में निवेश करने का एक और ऑप्‍शन है और वो है म्‍यूचुअल फंड। गोल्‍ड ईटीएफ के मुकाबले गोल्‍ड म्‍यूचुअल में इंवेस्‍टमेंट ज्‍यादा आसान है। ऑनलाइन या डिस्ट्रीब्यूटर्स के थ्रू गोल्‍ड म्‍यूचुअल फंड में निवेश किया जा सकता है। यहां पर निवेश के लिए किसी डिमैट अकाउंट की जरुरत नहीं होती है। गोल्ड म्यूचुअल फंड में एसआईपी के जरिए भी निवेश करने का ऑप्‍शन है। जरुरत पड़ने पर आप इसे बेच भी सकते हैं।

Next Stories
1 ‘हम दो, हमारे दो’ की टू चाइल्‍ड पॉलिसी से टैक्‍सपेयर्स को मिलते हैं कौन-कौन से फायदे
2 LIC Kanyadaan Policy: रोजाना करें 121 रुपए का निवेश, बेटी हो जाएगी 27 लाख रुपए की मालकिन
3 Mutual Funds Vs Fixed Deposits : निवेश पर कौन देता है ज्‍यादा रिटर्न?
ये पढ़ा क्या?
X