scorecardresearch

ESIC Scheme से एक महीने में जुड़ गए 10.28 लाख नए सदस्य, जानें- योजना के तहत क्या मिलते हैं लाभ?

ESIC गैर-रोजगार भत्ता (UN-EMPLOYMENT ALLOWANCE) भी देता है। यह रोजगार के अनैच्छिक नुकसान या गैर-नियोक्ता चोट के कारण स्थायी अक्षमता के मामले में अधिकतम 24 महीने तक मासिक नकद भत्ता दिया जाता है।

esic, nso, utility news
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

एंप्लाई स्टेट इंश्योरेंस कॉरपोरेशन (Employees’ State Insurance Corporation: ESIC) की ओर से चलाई जाने वाली सामाजिक सुरक्षा स्कीम में नवंबर 2021 में तकरीबन 10.28 लाख नए सदस्य शामिल हुए। ताजा आंकड़े राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (National Statistical Office : NSO) की ओर से जारी की गई एक रिपोर्ट का हिस्सा हैं।

ऑफिशियल डेटा के अनुसार, नवंबर की तुलना में पिछले महीने (अक्टूबर, 2021) में यह आंकड़ा 12.39 लाख था। ईएसआईसी के इन आंकड़ों से देश में औपचारिक क्षेत्र के रोजगार के बारे में अंदाज मिलता है।

आंकड़े बताते हैं कि ईएसआईसी स्कीमों से जुड़ने वाले कुल नए कर्मचारियों की संख्या अप्रैल में 10.78 लाख, मई में 8.91 लाख, जून में 10.68 लाख, जुलाई में 13.42 लाख, अगस्त में 13.47 लाख और सितंबर 2021 में 13.57 लाख थी। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बाद राज्यों की तरफ से दी गई कोविड संबंधी प्रतिबंधों में ढील के चलते इससे जुड़े नामांकन में तेजी आ गई थी।

एनएसओ की रिपोर्ट के मुताबिक, ईएसआईसी के नए खाताधारकों की कुल संख्या 2020-21 में 1.15 करोड़ थी, जबकि साल 2019-20 में यह आंकड़ा 1.51 करोड़ और उससे पहले 2018-19 में 1.49 करोड़ था। सितंबर 2017 से मार्च 2018 तक लगभग 83.35 लाख नए खाताधारक ईएसआईसी स्कीम में ऐड हुए।

एनएसओ रिपोर्ट ईएसआईसी, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (Employees’ Provident Fund Organisation : EPFO) और पेंशन फंड नियामक व विकास प्राधिकरण (Pension Fund Regulatory and Development Authority : PFRDA) की ओर से चलाई जाने वाली कई सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के नए खाताधारकों के पेरोल आंकड़ों (Payroll Data) पर आधारित है।

ईएसआई योजना के तहत मेडिकल, दिव्यांगता, मैटर्निटी और बीमारी (सिकनेस) से जुड़े लाभ मिलते हैं, जबकि बेरोजगारी भत्ता और निर्भर व्यक्ति को भी फायदा मिलता है। यही नहीं ईएसआई के तहत कुछ और लाभ भी हैं, जिनके तहत कारावास खर्च (Confinement Expenses),
अंतिम संस्कार का ख़र्च (Funeral Expenses), शारीरिक पुनर्वास (Physical Rehabilitation), व्यावसायिक प्रशिक्षण (Vocational Training)
राजीव गांधी श्रमिक कल्याण योजना (RGSKY) के तहत कौशल उन्नयन प्रशिक्षण शामिल हैं।

ESI के लिए कौन है पात्र?: ईएसआईसी के लाभों के लिए उक्त एक व्यक्ति को कमेटी के कुछ तय मानदंडों को पूरा करना पड़ता है। मसलन एक व्यक्ति जो एक नॉन-सीजनल फैक्ट्री/कारखाने में काम करता है और उसमें 10 से अधिक कर्मचारी हैं। यह मानदंड अधिनियम की धारा 2 (12) के तहत लागू होता है। वहीं, एक जनवरी 2017 से एक कर्मचारी की वेतन सीमा 21,000 रुपए प्रति महीने निर्धारित की गई है, ताकि वह ईएसआई योजना के दायरे में आ सके।

पढें Personal Finance (Personalfinance News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.