कोरोना के ओमिक्रॉन वेरिएंट से दहशत! यात्रा करना है जरूरी तो कराएं ट्रैवल इंश्योरेंस, जानिए कैसे होगा फायदा

ट्रैवल इंश्योरेंस कवर लेने से पहले आप योग्यता चेक करे लें। यह निर्भर करता है कि आप किस तरह का इंश्योरेंस ले रहे हैं। फैमिली ट्रैवल इंश्योरेंस के तहत आपका, आपके जीवनसाथी का और आप पर निर्भर दो बच्चों को कवर किया जाएगा।

Corona Omicron Variants, Travel Insurance, Health Issues
कुछ बीमा कंपनियां यात्रा शुरू करने के दिन तक यात्रा बीमा लेने की सुविधा देती हैं। (फोटो सोर्स : एक्सप्रेस न्यूज)

अफ्रीकी देशों में कोरोना के ओमिक्रॉस वेरिएंट के मिलने से पूरी दुनिया में दहशत का माहौल बना हुआ है। बताया जा रहा है कि, कोरोना का नया वेरिएंट डेल्टा वेरिएंट से 10 गुना ज्यादा तेजी से फैलता है। हालांकि अभी इस बारे में WHO ने कोई पुष्टि नहीं की है। फिर भी आपको इस समय विदेश या देश में यात्रा करनी है तो आपको सुरक्षित रहने के लिए ट्रैवल इंश्योरेंस जरूर कराना चाहिए। क्योंकि अगर आप विदेश में बीमार होते हैं तो आपके लिए इलाज कराना काफी खर्चीला हो सकता है। ऐसे में ट्रैवल इंश्योरेंस लेने से आपका पूरा मेडिकल खर्च बीमा कंपनी उठाएंगी। वहीं ट्रैवल इंश्योरेंस के कई दूसरे फायदे भी हैं। आइए जानते है इसके बारे में….

यात्रा बीमा क्यों है जरूरी – आज अधिकतर लोग अपनी डेली रूटीन से कुछ समय का ब्रेक लेने के लिए किसी जगह घूम आना चाहते हैं। यह प्रवृत्ति तेजी से बढ़ी है। इसे देखते हुए आवश्यक हो जाता है। विदेशों की यात्रा के दौरान आपके सामने अगर मेडिकल इमरजेंसी आ गई तो उसके एक्सपेंसेज को लेकर आप परेशान हो सकते हैं। ऐसे में इंश्योरेंस रहने की स्थिति में बीमा कंपनी आपके इलाज पर बीमित राशि के बराबर का कवर उपलब्ध कराएगी। यह सुविधा सिर्फ विदेशी यात्रा पर ही नहीं, घरेलू यात्राओं पर भी मिलती है।

यात्रा बीमा के लिए जरूरी योग्यता – ट्रैवल इंश्योरेंस कवर लेने से पहले आप योग्यता चेक करे लें। यह निर्भर करता है कि आप किस तरह का इंश्योरेंस ले रहे हैं। फैमिली ट्रैवल इंश्योरेंस के तहत आपका, आपके जीवनसाथी का और आप पर निर्भर दो बच्चों को कवर किया जाएगा। वयस्कों की उम्र 18 से 60 वर्ष के बीच की और बच्चों की उम्र 6 महीने से 21 साल तक हो सकती है। इसके साथ ही वरिष्ठ नागिरक यात्रा बीमा के तहत किसी शख्स की उम्र 60 वर्ष से अधिक होनी चाहिए और ग्रुप ट्रैवल इंश्योरेंस के तहत कम से कम 10 लोगों को कवर मिलता है।

500 रुपये से 2 हजार तक लागत – ट्रैवल पॉलिसी की लागत इस पर निर्भर करती है कि ट्रैवलिंग कॉस्ट कितनी है, आपकी उम्र, बीमित राशि कितनी है। इसके अलावा भी कई फैक्टर्स पर भी यह निर्भर करता है, जैसे कि आप कहां की यात्रा कर रहे हैं और कितने दिनों के लिए। उदाहरण के लिए मान लेते हैं कि आपको एक महीने से कम समय के लिए मैक्सिको जाना है को 1 लाख डॉलर (74 लाख रुपये) के सम इंश्योर्ड के लिए आपको 580 रुपये से लेकर 1254 रुपये तक चुकाने पड़ सकते हैं।

यह भी पढ़ें: इन बैंकों के ग्राहकों को मिलेगा पांच लाख रुपये का जमा बीमा कवर

यात्रा से 15 दिन पहले पॉलिसी लेना बेहतर – कुछ बीमा कंपनियां यात्रा शुरू करने के दिन तक यात्रा बीमा लेने की सुविधा देती हैं। लेकिन इसे खरीदने का बेहतर समय यात्रा शुरू करने के 15 दिन पहले होता है। इससे आपको कुछ बोनल कवरेज मिलने की भी संभावना बढ़ जाती है। अधिकतर कंपनियां यात्रा के दिन बीमा कराने का मौका नहीं देती हैं।

पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।