ताज़ा खबर
 

हेल्‍थ इंश्‍योरेंस पॉलिसी चुनने से पहले इन बातों का रखें ध्‍यान, कभी नहीं होगा नुकसान

अत्यधिक अस्पताल और चिकित्सा बिलों को देखते हुए, जो कि कोविड उपचार या किसी अन्य चिकित्सा कारण लोगों ने न केवल स्वास्थ्य बीमा का विकल्प चुनना शुरू कर दिया है, बल्कि उपलब्ध सर्वोत्तम स्वास्थ्य सुरक्षा को भी चुनना शुरू कर दिया है।

सांकेतिक फोटो।

महामारी से पहले, ज्यादातर लोग, विशेष रूप से वेतनभोगी, नियोक्ता द्वारा प्रदान की जाने वाली बीमा योजनाओं से खुश थे। विशेषज्ञों का कहना है, अधिकांश ने बीमा पॉलिसियों के दस्तावेजों, समावेशन, बहिष्करण या बारीक प्रिंटों को देखने की भी परवाह नहीं की।

हालांकि, महामारी के बाद, विशेष रूप से अत्यधिक अस्पताल और चिकित्सा बिलों को देखते हुए, जो कि कोविड उपचार या किसी अन्य चिकित्सा कारण से हो रहे हैं, लोगों ने न केवल स्वास्थ्य बीमा का विकल्प चुनना शुरू कर दिया है, बल्कि उपलब्ध सर्वोत्तम स्वास्थ्य सुरक्षा को भी चुनना शुरू कर दिया है। विशेषज्ञों का कहना है कि महामारी के कारण, अधिकांश लोग अब व्यापक स्वास्थ्य बीमा कवर की आवश्यकता से अच्छी तरह वाकिफ हो गए हैं। एक इष्टतम स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी खरीदने से पहले आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए:

पॉलिसीधारक की आवश्यकता और पर्सनल डिटेल : एक व्यक्ति की सामाजिक जनसांख्यिकी, जैसे कि लिंग, आयु, आय, जातीयता, शिक्षा स्तर, अनुभव के वर्ष, स्थान आदि बीमाकर्ताओं को किसी के क्षेत्र में अस्पताल में भर्ती होने की औसत लागत तय करने में मदद करते हैं। इसके अलावा, अगर कोई रोबोटिक सर्जरी और विदेशी आपातकालीन अस्पताल में भर्ती आदि जैसे आधुनिक उपचारों के साथ बेहतर अस्पताल के कमरे की उम्मीद करता है, तो विशेषज्ञों का कहना है कि किसी को उच्च कवरेज पॉलिसी का विकल्प चुनना चाहिए। इसके अलावा, किसी भी उपचार पर किसी भी कैपिंग या सीमाओं के लिए पॉलिसीधारक से संपर्क करें।

उद्योग के विशेषज्ञों का कहना है कि नए पॉलिसीधारकों को कम बीमा राशि वाली फ्लोटर पॉलिसियों से भी बचना चाहिए क्योंकि मौजूदा महामारी के परिदृश्य में उनका प्रदर्शन खराब रहा है। ऐसी पॉलिसी का चयन करें जो किसी भी उपचार विकल्प या किसी भी बीमारी को सीमित न करे।

प्रतीक्षा अवधि और पॉलिसी अवधि : हमेशा 2-3 साल से लेकर उच्च पॉलिसी अवधि चुनने का प्रयास करें। ऐसा इसलिए है, क्योंकि लंबी अवधि में कुछ लाभ मिलते हैं, जैसे कि दूसरे या तीसरे वर्ष के लिए प्रीमियम पर छूट आदि, जो इसे एक आकर्षक सौदा बनाता है।

अधिकांश स्वास्थ्य बीमा प्रतीक्षा अवधि के साथ आते हैं। इसलिए, इससे अच्छी तरह वाकिफ रहें, खासकर, अगर आपको पहले से कोई बीमारी है या कोई गंभीर बीमारी है। बीमा प्रोवाइडर से पॉलिसी के भीतर लागू प्रतीक्षा अवधि की जांच करें। उन पॉलिसी को चुनने का प्रयास करें जिनकी प्रतीक्षा अवधि कम वर्ष है।

कैशलेस क्‍लेम ऑप्‍शंस की पॉलिसी : बीमा कंपनी के अस्पतालों के नेटवर्क और यदि वे कैशलेस क्‍लेम ऑप्‍शंस की सुविधा प्रदान करते हैं पर ध्यान दें। विशेषज्ञों का कहना है कि मेडिकल इमरजेंसी के दौरान अग्रिम भुगतान करना मुश्किल हो सकता है। इसलिए, एक ऐसा कवर चुनें जो अस्पतालों के व्यापक नेटवर्क के साथ-साथ पूरे देश में कैशलेस दावों और कवरेज की पेशकश करता हो।

अलग से, सुनिश्चित करें कि आपके द्वारा चुनी गई पॉलिसी अपने लाभों का त्याग किए बिना कम प्रीमियम के साथ आती है। उदाहरण के लिए, बीमाकर्ताओं की वेबसाइट से सीधे बीमा पॉलिसी खरीदने से आपको ऑनलाइन छूट प्राप्त करने में मदद मिल सकती है। विभिन्न बीमाकर्ता मासिक और त्रैमासिक दोनों ईएमआई में प्रीमियम भुगतान विकल्प भी प्रदान करते हैं, जिससे कई लोगों को आसान किश्तों में प्रीमियम का भुगतान करने में मदद मिल सकती है।

हॉस्‍पि‍टलाइजेशन और अन्य कवरेज : स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी खरीदने से पहले पॉलिसीधारक को हमेशा अपनी और अपने आश्रितों की उम्र और पहले से मौजूद स्वास्थ्य स्थितियों पर विचार करना चाहिए। उदाहरण के लिए, यदि किसी पॉलिसीधारक के पास पहले से कम बीमा राशि वाली पॉलिसी है, तो वह अतिरिक्त कवरेज के लिए सुपर टॉप-अप पॉलिसी चुनने पर विचार कर सकता है। विशेषज्ञों का कहना है कि ऐसी पॉलिसी चुनें जो अस्पताल में भर्ती होने से पहले और बाद के खर्चों को कवर करे।

Next Stories
1 कोरोना काल में आईपीओ ने महिलाओं को बनाया इंवेस्‍टर, पिछले साल 77 फीसदी का इजाफा
2 राहुल बजाज की इस कंपनी ने 12 साल में दिया 1,34,466.81 फीसदी का रिटर्न, 50 हजार के करीब सात करोड़ बनाए
3 महंगाई के दौर में एलपीजी सिलेंडर पर हो सकती है 900 रुपए की बचत, पेटीएम करेगा आपकी मदद
यह पढ़ा क्या?
X