अनिल अंबानी के बयान से कंपनी के निवेशकों की बदली किस्‍मत, जबरदस्‍त हो रही है कमाई

पहले डीएमआरसी पर बड़ी जीत और जीत से मिले रुपयों से कंपनी के कर्जमुक्‍त होने की खबर से निवेशकों की बांछे खिल गई है। रिलायंस इंफ्रा के निवेशकों की बीते चार दिनों में 20 फीसदी से ज्‍यादा का फायदा हुआ है।

Anil ambani
मंगलवार को अनिल अंबानी ने बयान दिया कि डीएमआरसी से मिलने वाले वाले 7100 करोड़ रुपयों से रिलायंस इंफ्रा को कर्ज मुक्‍त किया जाएगा। (Photo By Adeel Halim/ Bloomberg)

अनिल अंबानी के बीते कुछ दिनों से दिन थोड़े अच्‍छे चल रहे हैं। डीएमआरसी से 4600 करोड़ रुपए के आर्बिट्रेशन अवॉर्ड केस जीतने के बाद अब रिलायंस इंफ्रा के पूरी तर‍ह से कर्ज मुक्‍त होने की खबरें आ रही हैं। यह बयान खुद चेयरमैन अनिल अंबानी ने दिया है। जिसके बाद आज कंपनी के शेयरों में फ‍िर से 5 फीसदी का अपर सर्किट लगा है। खास बात तो ये है कि 8 सितंबर के बाद से लगातार तेजी तेजी देखने को मिल रही है। इस दौरान कंपनी के शेयरों में 20 फीसदी से ज्‍यादा की तेजी आर चुकी है।

कर्ज मुक्त होगी रिलांयस इंफ्रा
अध्यक्ष अनिल अंबानी ने मंगलवार को एक वार्षिक आम बैठक (एजीएम) के दौरान कहा कि रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड को दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (DMRC) से 7,100 करोड़ रुपए प्राप्त होंगे, जिसका उपयोग वह कर्ज चुकाने और कंपनी को कर्ज मुक्त बनाने के लिए करेंगे। पिछले हफ्ते, सुप्रीम कोर्ट ने रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर यूनिट दिल्ली एयरपोर्ट मेट्रो एक्सप्रेस प्राइवेट लिमिटेड के पक्ष में और डीएमआरसी के खिलाफ एक मध्यस्थ पुरस्कार को बरकरार रखा, जो दिल्ली एयरपोर्ट मेट्रो लाइन का संचालन करता है।

आर्बिट्रेशन में फंसे हैं 15 हजार करोड़ रुपए
अंबानी ने कहा, विद्युत वितरण व्यवसाय, बीएसईएस दिल्ली और मुंबई में पूर्ववर्ती जीटीडी के लिए विभिन्न मंचों के सामने अनुमोदन एवं विवाद के तहत 50,000 करोड़ रुपए की रेगुलेटरी असेट्स हैं। उन्होंने बताया कि विभिन्न मंचों के सामने लंबित मध्यस्थता दावों की राशि 15,000 करोड़ रुपए है। अंबानी ने रिलायंस इंफ्रा में 550 करोड़ रुपए से अधिक के तरजीही मुद्दे के माध्यम से अपनी हिस्सेदारी बढ़ा दी है, जिसमें प्रमोटर होल्डिंग को 22.06 फीसदी तक बढ़ाने के लिए 62 रुपए प्रत्येक के 8.88 करोड़ वारंट शामिल हैं, जो इक्विटी में कंवर्टेबल हैं।

अनिल अंबानी ने यहां से भी बेची हिस्‍सेदारी
पिछले वर्ष के दौरान, रिलायंस इंफ्रा ने दिल्ली आगरा टोल रोड की 100 फीसदी हिस्सेदारी क्यूब हाईवे और इंफ्रास्ट्रक्चर III पीटीई लिमिटेड को 3,600 करोड़ में बेच दी है। वहीं पार्वती कोल्डम ट्रांसमिशन कंपनी लिमिटेड में अपनी पूरी 74 फीसदी हिस्सेदारी इंडिया ग्रिड ट्रस्ट को 900 करोड़ के उद्यम मूल्य में बेच दी और संपत्ति की बिक्री, बायबैक और पट्टे के लिए एक समग्र लेनदेन के तहत सांताक्रूज में वाणिज्यिक संपत्ति बेच दी। इन लेन-देन से कर्ज में 35 फीसदी की कमी आई है।

निवेशकों की हो रही कमाई
वहीं दूसरी ओर अनिल अंबानी के इस बयान से रिलायंस इंफ्रा के शेयरों में जबरदस्‍त तेजी देखने को मिल रही है। जिसकी वजह से निवेशकों की खूब कमाई हो रही है। रिलायंस इंफ्रा के शेयरों में आज भी 5 फीसदी का अपर सर्किट लगा है। यहा लगातार चौथा दिन है जब आरइंफ्रा के शेयरों में 5 फीसदी से ज्‍यादा की तेजी देखने को मिल रही है। 8 तारीख के बाद से अब तक कंपनी के शेयरों में 21.37 फीसदी की तेजी देखने को मिल चुकी है।

पढें Personal Finance समाचार (Personalfinance News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X