scorecardresearch

इस सरकारी स्‍कीम में 12500 रुपए हर महीने का निवेश दे सकता है 64 लाख रुपए; समझें गणित

यह बालिका योजना 2015 में 10 वर्ष तक की आयु के लड़कियों के लिए शुरू की गई थी। इसे अधिकृत बैंक या डाकघर में सुकन्या समृद्धि खाता खोला जा सकता है।

इस सरकारी स्‍कीम में 12500 रुपए हर महीने का निवेश दे सकता है 64 लाख रुपए; समझें गणित
इस स्‍माल सेविंग स्‍कीम में आपको मिलता है 7.6 प्रतिशत का रिटर्न (फोटो-Freepik)

सरकार की ओर से देश के नागरिकों के लिए कई निवेश योजनाए पेश की जाती है। इसमें निवेश कर आप मोटा पैसा बना सकते हैं। साथ ही यह एक सुरक्षित स्‍कीम भी है और आपको गारंटीड रिटर्न भी मिलता है। इसके अलवा टैक्‍स छूट और अन्‍य बेनेफिट भी मिलता है। यहां आपको एसे ही एक स्‍कीम सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) के बारे में जानकारी दी जा रही है।

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) एक छोटी बचत योजनाओं में से एक है। यह बालिका योजना 2015 में 10 वर्ष तक की आयु के लड़कियों के लिए शुरू की गई थी। इसे अधिकृत बैंक या डाकघर में सुकन्या समृद्धि खाता खोला जा सकता है। SSY योजना EEE स्‍टेटस के साथ उच्चतम कर-मुक्त रिटर्न प्रदान करती है।

एक वित्तीय वर्ष में एक एसएसवाई खाते में 1.5 लाख रुपए तक जमा कर सकते हैं और आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80 सी के तहत पूरे 1.5 लाख रुपए निवेश पर कर छूट का दावा कर सकते हैं। Q2FY23 के लिए SSY ब्याज दर 7.6 प्रतिशत है और यह अभी भी मुद्रास्फीति की औसत दर से काफी ऊपर है।

इसका मतलब है कि अगर कोई निवेशक एक ऐसे बचत योजना की तलाश में है, जो किसी की बालिका के बेहतर वित्तीय भविष्य को सुनिश्चित कर सके, तो SSY खाता एक अच्छा विकल्प है क्योंकि यह जोखिम मुक्त है। यदि कोई निवेशक 12,500 रुपए प्रति माह का निवेश करता है तो वह SSY योजना के तहत उपलब्ध पूरी कर-मुक्त सीमा का उपभोग करने में सक्षम होगा और 21 साल के लॉक-इन के बाद, कोई अपनी लड़की के लिए लगभग 64 लाख रुपए जमा कर सकेगा।

अगर आपके बालिका की उम्र एक साल है और SSY खाता ओपेन किया है तो वह अगले 14 वर्षों के लिए निवेश कर सकते हैं जबकि 21 वर्ष की उम्र के बाद पूर्ण निकासी की अनुमति होगी। पूरी अवधि के लिए 7.60 प्रतिशत दर के आधार पर कैलकुलेट करें तो अगर कोई व्यक्ति हर महीने 12,500 रुपए का निवेश करता है और 18 साल की उम्र में पैसे की 50 प्रतिशत निकासी नहीं करता है तो उसे लगभग 64 लाख परिपक्वता राशि मिलेगी।

पढें Personal Finance (Personalfinance News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.