ताज़ा खबर
 

पेटीएम ने लॉन्च किया पेटीएम फूड वॉलेट, अब आपको होंगे ये सब फायदे

लिस्ट के मुताबिक, इसमें केएफसी, बर्गर किंग, जमाटे, पिज्जा हट, कैफे कॉफी डे और बिग बाजार शामिल हैं।

paytm, reliance jio, pm narendra modi, pm modi photo in paytm ad, modi photo in jio ad, notice to jio, notice to paytm, PM modi photoतस्वीर का इस्तेमाल प्रतिकात्मक तौर पर (फाइल फोटो)

डिजिटल वॉलेट प्लेयर पेटीएम ने पेटीएम एेप पर फूड वॉलेट फीचर को लॉन्च कर दिया है, जिसका मतलब है कि कंपनी अब अपने कर्मचारी को कर-मुक्त लाभ जैसे कि फूड कूपन और फूड वाउचर जारी कर सकते हैं। पेटीएम के मुताबिक, इससे नियोक्ताओं को सरकार द्वारा अनुमोदित कर-रियायती ब्रैकेट के तहत कर्मचारियों को फूड अलाउंड मिल सकता है। पेटीएम एेप में फूड वॉलेट उपलब्ध होगा, और कर्मचारी को दिया गया फूड अलाउंस डिजिटल होगा। पेटीएम का फूड वॉलेट एक यूनिक इंटरफेस के साथ आता है, जहां कर्मचारी पासबुक में रियल टाइम पर बैलेंस देख सकते हैं और एेप पर ‘nearby’ (पास की फूड शॉप) फीचर की मदद से निकटतम फूड आउटलेट का पता लगा सकते हैं। यह वॉलेट ऑफिस कैफेटेरिया के साथ कई अलग-अलग ऑनलाइन मर्चेंट्स और छोटे अकेले आउटलेट्स में भी इस्तेमाल कर सकते हैं। लिस्ट के मुताबिक, इसमें केएफसी, बर्गर किंग, जमाटे, पिज्जा हट, कैफे कॉफी डे और बिग बाजार शामिल हैं।

आसानी और सुविधा के अतिरिक्त, यूजर्स अतिरिक्त लाभ, जैसे एक्सक्लूसिव डील, डिस्काउंट और कैशबैक का फायदा उठा सकते हैं। नियोक्ता तत्काल किसी भी कर्मचारियों के फूड वॉलेट में पैसा भेज सकते है, वो भी सिर्फ एक क्लिक की मदद से। यह समाधान कुछ कॉर्पोरेट ऑफिस में पहले से ही मौजूद है। पेटीएम के एक अधिकारी ने कहा कि पेटीएम फूड वॉलेट पारंपरिक फूड वाउचर स्थान को बदल देगा और सभी स्टेकहोल्डर- जैसे कि नियोक्ताओं, कर्मचारियों और फूड रिटेलर को लाभ होगा।

हाल ही में भारत के सबसे तेजी से बढ़ते और सबसे व्यापक ई-ऑटोमोबाइल उत्पादक-ओकिनावा ने अपने प्रमुख वाहनों में से एक रिज स्कूटर को बेचने के लिए भारत के सबसे बड़े मोबाइल भुगतान और ई-कॉमर्स प्लेटफार्म पेटीएम के साथ साझेदारी की है। कैशबैक के रूप में प्रस्तुत किए गए 2000 रुपये के साथ, रिज की प्रत्येक बिक्री ज्यादा ग्राहकों को ई-वाहन को चुनने के लिए प्रोत्साहित करेगी और देश में दीर्घकालिक परिवहन की संस्कृति का विस्तार करेगी। पेटीएम के मुताबिक, इस वॉलेट में पासकोड और टू-स्टेप ऑथेंटिकेशन जैसे सिक्योरिटी फीचर होंगे, ताकि कोई दूसरा इनका यूज न कर सके। बता दें कि मार्च में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने गाइडलाइन जारी कर कहा था कि सभी प्रीपेड मील वाउचर कंपनियां 2017 के आखिर तक डिजिटल हो जाएं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 क्‍वॉलिटी टेस्‍ट में फेल हुए पेप्‍सी का म‍िरिंडा, अडानी का फॉर्चून ऑइल, मैरिको का सफोला और पारले एग्रो का फ्रूटी सहित नौ उत्‍पाद
2 TRAI ने पुराने पड़ चुके नियमों को समाप्त करने के लिए बनाए उपसमूह
3 सोना हुआ सस्ता और फीकी पड़ी चांदी की चमक, भविष्य के लिए कर सकते हैं खरीद
यह पढ़ा क्या?
X