पारस डिफेंस के आईपीओ ने तोड़ डाले पुराने रिकॉर्ड, जमकर मिला निवेशकों का प्यार

बाजार के विशेषज्ञ बताते हैं कि Paras Defence IPO सबसे अधिक सब्सक्राइव होने वाला आईपीओ बन गया है। इससे पहले यह रिकॉर्ड Salasar Technologies के नाम था।

Paras Defence IPO
पारस डिफेंस के आईपीओ ने सब्सक्रिप्शन के सारे रिकॉर्ड तोड़ डाले। (Source: Indian Express)

रक्षा और अंतरिक्ष क्षेत्र में काम करने वाली कंपनी पारस डिफेंस एंड स्पेस टेक्नोलॉजीस (Paras Defence and Space Technologies) के आईपीओ ने कई पुराने रिकॉर्ड तोड़ डाले। इस आईपीओ (Paras Defence IPO) पर निवेशकों ने जमकर प्यार बरसाया और इसे 318 गुना सब्सक्राइव किया गया।

आईपीओ बाजार के विशेषज्ञों की मानें तो यह अभी तक सबसे अधिक सब्सक्राइव होने वाला आईपीओ बन गया है। इससे पहले यह रिकॉर्ड सालासार टेक्नोलॉजीज (Salasar Technologies) के पास था, जिसके आईपीओ को 273 गुना सब्सक्राइव किया गया था।

मंगलवार को खुला था Paras Defence IPO

पारस डिफेंस का आईपीओ मंगलवार को खुला था और बृहस्पतिवार इसके लिए बोली लगानी का आखिरी दिन था। इस आईपीओ में 140.6 करोड़ रुपये तक के नए शेयर और 17,24,490 इक्विटी शेयरों का ऑफर फोर सेल (OFS) शामिल है। कंपनी के आईपीओ को कुल 38,021 करोड़ रुपये की बोलियां प्राप्त हुईं।

मंगलवार को पहले दिन ऑफर के खुलने के कुछ ही घंटों में इसे पूरी तरह से खरीद लिया गया। आईपीओ को 2,17,26,31,875 शेयरों के लिए बोलियां मिलीं, जबकि 71,40,793 शेयरों की पेशकश की गई थी। नॉन-इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स कैटेगरी को 927.70 गुना, क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (QIB) को 169.65 गुना और रिटेल निवेशकों का हिस्सा 112.81 गुना सब्सक्राइब हुआ।

HNI श्रेणी में ही आ गईं 25 हजार करोड़ की बोलियां

अधिक नेटवर्थ वाले लोगों (HNI) की श्रेणी में सर्वाधिक सब्सक्रिप्शन आए। इसे 974 गुना सब्सक्राइव किया गया। इस श्रेणी में अकेले करीब 25 हजार करोड़ की बोलियां प्राप्त हुईं।

पारस डिफेंस के आईपीओ के लिए प्राइस बैंड 165-175 रुपये रखी गई है। यदि 175 रुपये के हिसाब से देखें तो कंपनी का बाजार पूंजीकरण (MCap) 683 करोड़ रुपये बैठता है।

ISRO, DRDO, TCS जैसी कंपनियां भी हैं ग्राहक

रक्षा और अंतरिक्ष क्षेत्र से जुड़ी यह कंपनी 2009 में शुरू हुई थी। कंपनी रक्षा व अंतरिक्ष क्षेत्र के इंजीनियरिंग समाधानों का विनिर्माण, परीक्षण व आपूर्ति करती है। कंपनी के पास नवी मुंबई और ठाणे में दो अत्याधुनिक मैन्युफैक्चरिंग प्लांट है। आज कंपनी के ग्राहकों में ISRO, DRDO, भारत इलेक्ट्रॉनिक्स, हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स, गोदरेज एंड बॉयसे, TCS, किर्लोस्कर ग्रुप, इलेक्ट्रॉनिक्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया, भारत डायनेमिक्स जैसी कई नामी कंपनियां शामिल हैं।

इसे भी पढ़ें: बंपर कमाई का मौका देगा 1.2 अरब डॉलर का ओयो आईपीओ, अगले सप्ताह सेबी को दस्तावेज सौंपेगी कंपनी

पारस डिफेंस को मार्च 2021 में समाप्त हुए वित्त वर्ष में 143 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ था। इस दौरान कंपनी ने 16 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया था। आईपीओ के बाद कंपनी के शेयर एक अक्टूबर को शेयर बाजारों में सूचीबद्ध होंगे। इससे पहले कंपनी 28 सितंबर को शेयर अलॉट करेगी।

पढें व्यापार समाचार (Business News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट