ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान में जन्में शाहिद खान ने बनाई US में दौलत, भारत के इस अरबपति से मिलती है कड़ी टक्कर

पाकिस्तान में जन्में शाहिद खान अमेरिका की नागरिकता ले चुके हैं और वह दुनिया के 350 अरबपतियों की लिस्ट में शामिल हैं।

Shahid Khan, Shahid Khan networth, nusli wadiaशाहिद खान को भारत के दिग्गज कारोबारी नुस्ली वाडिया से टक्कर मिलती है (Photo-REUTERS, Indian express )

वैसे तो दुनिया के टॉप अरबपतियों की सूची में पाकिस्तान का दूर-दूर तक नाम नहीं है लेकिन कुछ ऐसे कारोबारी हैं जो पाकिस्तान में जन्में हैं लेकिन विदेश में रहकर कमाई कर रहे हैं। इनमें से एक नाम शाहिद खान का भी है। आइए जानते हैं शाहिद खान के बारे में और ये भी जानेंगे कि उन्हें भारत के किस कारोबारी से टक्कर मिलती है।

पाकिस्तान में जन्में शाहिद खान अमेरिका की नागरिकता ले चुके हैं और वह दुनिया के 350 अरबपतियों की लिस्ट में शामिल हैं। फोर्ब्स के मुताबिक शाहिद खान सिर्फ 16 साल की उम्र में पाकिस्तान छोड़कर अमेरिका आ गए, तब उनकी जेब में सिर्फ 500 डॉलर रुपये थे। अमेरिका में उन्होंने ऑटो पार्ट्स सप्लायर कंपनी में काम किया। इसके बाद कंपनी में हिस्सेदारी खरीद ली।

शाहिद खान ने धीरे-धीरे अपने कारोबार को आगे बढ़ाया। आज वह दुनिया के टॉप 350 अमीरों में शुमार हैं। ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के मुताबिक शाहिद खान की कुल संपत्ति 8 बिलियन डॉलर से ज्यादा है और वह अमीरों की सूची में 302वें स्थान पर हैं।

वह ब्लैक न्यूज़ चैनल के एक प्रमुख वित्तीय सहायक हैं। ये 24 घंटे का केबल न्यूज चैनल है, जिसे फरवरी 2020 में लॉन्च किया गया था। उन्होंने रेसलिंग की दुनिया में भी हाथ आजमाया है।

भारत के किस कारोबारी से मिल रही टक्करः दौलत के मामले में शाहिद खान को भारत के दिग्गज कारोबारी नुस्ली वाडिया से टक्कर मिलती है। ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के मुताबिक ब्रिटानिया से लेकर गोएयर और बॉम्बे डाइंग तक के मालिक नुस्ली वाडिया की संपत्ति करीब 8 बिलियन डॉलर है और वह रैंकिंग में 315वें स्थान पर हैं।

आपको बता दें कि ये रियल टाइम नेटवर्थ है, जो समय के साथ बदलता रहता है। इससे दौलत और रैंकिंग में भी उतार-चढ़ाव देखने को मिलता है।

Next Stories
1 गड़बड़ी रोकने के लिए HDFC बैंक ने बनाया प्लान, RBI ने की थी सख्ती
2 भारत में एंट्री के बीच एलन मस्क का ऐलान, इस काम के लिए देंगे 730 करोड़ रुपये का इनाम
3 SEBI के एक फैसले से बढ़ा मुकेश अंबानी का रुतबा, दौलत में 44 हजार करोड़ रुपये का इजाफा
चुनावी चैलेंज
X