ताज़ा खबर
 

जल्द ही आपके घर तक कैश पहुंचाएगी ओला कैब, जानिए कैसे

आठ नवंबर को 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट बंद किए जाने के बाद लोग अभी तक नकदी की समस्या से जूझ रहे हैं।

सांकेतिक तस्वीर।

नोटबंदी के बाद नकदी समस्या से निजात दिलाने के लिए एप आधारित टैक्सी सेवा देने वाली कंपनी ओला कैब्स ने जल्द ही आपके घर तक कैश पहुंचाएगी। इसके लिए कंपनी ने निजी क्षेत्र के यस बैंक के साथ साझेदारी की है। ओला की कैब में बैंक की ओर से माइक्रो एटीएम की सुविधा प्रदान की जाएगी जो लोगों के घर के नजदीक नकदी सुविधा प्रदान करेगी। यस बैंक के वरिष्ठ अध्यक्ष एवं भारत के प्रमुख अधिकारी (ब्रांड एवं खुदरा विपणन) रजत मेहता ने कहा, “यह ज्यादा से ज्यादा ग्राहकों तक अपनी पहुंच बनाने की हमारी प्रतिबद्धता का हिस्सा है। हम ओला के साथ चलते-फिरते समाधान पर काम कर रहे हैं, इसका मतलब नकदी की आपूर्ति के लिए कैब आपके पास आएगी। हम इस सुविधा को शुरू करने के अंतिम चरण में हैं और हमें उम्मीद है कि इस सेवा की शुरूआत हम हफ्ते भर या ज्यादा से ज्यादा 10 दिन में कर लेंगे।”

यस बैंक और ओला ने सोमवार को इस सेवा की शुरूआत की जहां ग्राहक पीओएस  मशीन के माध्यम से नकदी आहरण कर सकते हैं। इसमें किसी भी बैंक के ग्राहक 2,000 रुपए तक निकासी कर सकते हैं। गौरतलब है कि आठ नवंबर को 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट बंद किए जाने के बाद लोग नकदी की समस्या से जूझ रहे हैं। इसके अलावा बैंकों और एटीएम के बाहर अभी भी लंबी कतारें देखने को मिल रही है। ऐसे में लोगों को राहत देने करीब 3700 पेट्रोल पंपों पर पॉइंट ऑफ सेल्स (पीओएस) मशीनों को शुरू किया गया था जहां लोग डेबिट कार्ड के माध्यम से नकदी ले सकते हैं। इसी तरह के प्रयोग में ओला कैब ने यस बैंक से साझेदारी की है। ऐप के जरिए इसकी जानकारी लेकर लोग डेबिट कार्ड्स स्वाइप करवाकर उन कैब से कैश ले सकेंगे। इसके लिए कंपनी भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) और पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के साथ साझेदारी कर रही है।

उत्तराखंड: बहती नदी से लोगों को मिले 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App