scorecardresearch

Credit Card Link with UPI: यूपीआई को क्रेडिट कार्ड से जोड़ने पर एनपीसीआई ने दिया बड़ा अपडेट, जल्द मिल सकती है सुविधा  

Credit Card Link with UPI: क्रेडिट कार्ड से यूपीआई को लिंक करने की सेवा को पायलट प्रोजेक्ट के रूप में अगस्त या सितंबर में शुरू किया जा सकता है।

Credit Card Link with UPI: यूपीआई को क्रेडिट कार्ड से जोड़ने पर एनपीसीआई ने दिया बड़ा अपडेट, जल्द मिल सकती है सुविधा  
UPI link with Credit Card: क्रेडिट कार्ड को यूपीआई से जोड़ने का ऐलान आरबीआई गवर्नर शशिकांत दास ने जून 2022 में किया था। (Photo: Freepik)

Credit Card Link with UPI News in Hindi: क्रेडिट कार्ड का यूपीआई से लिंक होने का इंतजार कर रहे लोगों के लिए बड़ी खुशखबरी है। देश में यूपीआई सेवा प्रदान करने वाली सरकारी कंपनी नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने रुपे क्रेडिट कार्ड को यूपीआई से जोड़ने को लेकर बड़ा बयान दिया है। कंपनी के सीईओ दिलीप अस्बे ने कहा कि हम यूपीआई में क्रेडिट कार्ड को जोड़ने का प्रस्ताव आने वाले 10 दिनों में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) को दे सकते हैं।

अस्बे ने बैंक ऑफ बड़ौदा की वार्षिक बैंकिंग कॉन्फ्रेंस में कहा, “हमें आशा है कि आने वाले कुछ महीनों में रुपे क्रेडिट कार्ड को यूपीआई से जोड़ने का काम पूरा हो जाएगा। हम इसके लिए बॉब कार्ड्स, एसबीआई कार्ड्स, एक्सिस बैंक और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया से बातचीत कर रहे हैं।

बता दें, पिछले जून में नई मॉनिटरी पॉलिसी के बारे में बताते हुए आरबीआई के गवर्नर शशिकांत दास ने यूपीआई प्लेटफार्म से क्रेडिट कार्ड को जोड़ने का एलान किया था, जिसकी शुरुआत रुपे क्रेडिट कार्ड को यूपीआई प्लेटफार्म से जोड़ने से होगी।

‘द इंडियन एक्सप्रेस’ की रिपोर्ट में एनपीसीआई के एक अधिकारी के हवाले से बताया गया है कि एनपीसीआई की कोशिश इस साल के अगस्त और सितंबर में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में क्रेडिट कार्ड से यूपीआई पेमेंट की शुरुआत करना है। सरकार की इस पहल में अभी तक एसबीआई कार्ड, पीएनबी कार्ड, यूनियन बैंक और एक्सिस बैंक ने रुचि दिखाई है।

इसके साथ ही रिपोर्ट में बताया गया है कि एनपीसीआई एक ऐसे फीचर पर भी काम कर रहा है, जिसमें उपभोक्ता की ओर से क्रेडिट कार्ड से भुगतान करने पर यूपीआई से अपने आप भुगतान हो जाएगा, इसका उद्देश्य है कि भविष्य में क्रेडिट कार्ड पेमेंट में डिफॉल्ट को टाला जा सकें।

रिपोर्ट में एक अधिकारी ने बताया कि इस फीचर का नाम यूपीआई ऑटोपे होगा क्योंकि आज के समय में क्रेडिट कार्ड जारी करने की लागत होने के चलते कोई भी क्रेडिट कार्ड कंपनी छोटी क्रेडिट लाइन का क्रेडिट कार्ड इशू नहीं कर सकती है। इस कारण से इसका डिजिटल समाधान निकालना जरूरी है। यूपीआई ऑटो पे इसका समाधान करता है। इससे क्रेडिट देने की और वसूली की लागत बिलकुल जीरो हो जाती है।

पढें व्यापार (Business News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 24-07-2022 at 12:55:07 pm
अपडेट