ताज़ा खबर
 

रिटेल के बाद अब बीमा कारोबार भी बेच रहे किशोर बियानी, फ्लिपकार्ट के फाउंडर सचिन बंसल कर सकते हैं अधिग्रहण

फ्लिपकार्ट के सह-संस्थापक रहे सचिन बंसल के नेतृत्व वाली कंपनी नवी टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड की ओर से उनके बीमा कारोबार का अधिग्रहण किया जा सकता है। किशोर बियानी Future Generali Life Insurance कंपनी के जरिए इंश्योरेंस सेक्टर में दखल रखते हैं।

kishore biyaniइंश्योरेंस कारोबार भी बेचने जा रहे हैं किशोर बियानी

रिटेल कारोबार को मुकेश अंबानी की लीडरशिप वाले रिलायंस इंडस्ट्रीज के हाथों बेच चुके किशोर बियानी अब बीमा बिजनेस भी बेच रहे हैं। फ्लिपकार्ट के सह-संस्थापक रहे सचिन बंसल के नेतृत्व वाली कंपनी नवी टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड की ओर से उनके बीमा कारोबार का अधिग्रहण किया जा सकता है। किशोर बियानी Future Generali Life Insurance कंपनी के जरिए इंश्योरेंस सेक्टर में दखल रखते हैं। Live Mint की रिपोर्ट के मुताबिक यह डील 1,400 से 1500 करोड़ रुपये तक में हो सकती है। Future Generali Life Insurance जॉइंट वेंचर कंपनी है, जिसमें फ्यूचर ग्रुप की 57.62 फीसदी हिस्सेदारी है। इसके अलावा इंडस्ट्रियल इन्वेस्टमेंट ट्रस्ट की 16.88 पर्सेंट और Generali की 25.5 फीसदी की हिस्सेदारी है।

पूरे मामले की जानकारी रखने वाले एक सूत्र ने कहा कि इस डील पर मजबूती से बात चल रही है और जल्दी ही इस पर ऐलान किया जा सकता है। इस डील में इन्वेस्टमेंट बैंक UBS फ्यूचर ग्रुप के सलाहकार के तौर पर काम कर रहा है। हालांकि अब तक इस डील के संबंध में फ्यूचर ग्रुप या फिर सचिन बंसल की कंपनी की ओर से आधिकारिक तौर पर कुछ नहीं कहा गया है। बता दें कि शनिवार को ही फ्यूचर ग्रुप ने अपने रिटेल, होलसेल, लॉजिस्टिक्स और वेयरहाउसिंग के बिजनेस को रिलायंस ग्रुप की कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स को बेच दिया था। यह डील 24,713 करोड़ रुपये में हुई है।

यदि किशोर बियानी रिटेल के बाद इंश्योरेंस का बिजनेस भी छोड़ देते हैं तो फिर वह एफएमसीजी कारोबार में ही रह जाएंगे, जिसे वह फ्यूचर कन्ज्यूमर कंपनी के नाम से चलाते हैं। वित्त वर्ष 2020 में किशोर बियानी की इंश्योरेंस कंपनी Future Generali Life को 767.43 करोड़ रुपये की कमाई प्रीमियम हुई थी, जो 2019 के मुकाबले 7.35 फीसदी अधिक है। इससे पहले 2019 में कंपनी को 714.9 करोड़ रुपये प्रीमियम से हासिल किए थे। हालांकि लॉकडाउन की अवधि के दौरान अप्रैल से जून तिमाही में कंपनी को 65.66 करोड़ रुपये का प्रीमियम हासिल हुआ था, जो बीते साल की इसी अवधि के मुकाबले 56 फीसदी कम है। तब कंपनी को 149.26 करोड़ रुपये प्रीमियम के तौर पर हासिल हुए थे।

कोविड संकट से निपटने के लिए लागू किए गए लॉकडाउन ने जीवन बीमाकर्ताओं को कड़ी चोट दी है। इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डिवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के अनुसार जून तिमाही के दौरान निजी जीवन बीमा कंपनियों के कुल नए व्यवसाय प्रीमियम में 19.2% की गिरावट आई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 जानें, अब क्या करेंगे फ्यूचर ग्रुप के किशोर बियानी? मुकेश अंबानी को कारोबार बेच रिटेल बिजनेस से हुए बेदखल
2 उड्डयन मंत्री ने दिए बड़े पैमाने पर निजीकरण के संकेत, कहा- सरकार को न एयरपोर्ट चलाने चाहिए और न एयरलाइंस
3 LIC के ऑनलाइन टर्म प्लान की प्रीमियम है बेहद कम, जानें- कैसे आपको मिल सकता है फायदा और बचेंगे क्या चार्ज
यह पढ़ा क्या?
X