ताज़ा खबर
 

नोटबंदी: सर्राफा बाज़ार में 11वें दिन भी कारोबार बंद, आयकर विभाग के सर्वे का कर रहे विरोध

पिछले सप्ताह सरकार ने काले धन पर अंकुश लगाने के लिए 500 और 1,000 रुपए के नोटों को चलन से बाहर कर दिया था।
Author नई दिल्ली | November 21, 2016 16:00 pm
आभूषण की दुकान में काम करता कारीगर। (रॉयटर्स फाइल फोटो)

सरकार के 500 और 1,000 रुपए के नोटों को चलन से बाहर करने के बाद सोमवार (21 नवंबर) को लगातार 11वें दिन भी स्थानीय सर्राफा बाजार में कामकाज बंद रहा। नोटबंदी के बाद 10 नवंबर को सर्राफा व्यापारियों पर आयकर विभाग के सर्वे के विरोध में आभूषण विक्रेताओं के प्रतिष्ठान बंद हैं। नोटबंदी के बीच सर्राफा व्यापारियों द्वारा कथित रूप से गैर कानूनी ढंग से मुनाफा कमाने और कर अपवंचना की रिपोर्टों के बाद आयकर विभाग ने 10 नवंबर को उनके खिलाफ सर्वे अभियान चलाया। इसके विरोध में तभी से सर्राफा व्यापारियों ने कामकाज बंद रखा है। आयकर विभाग की ओर से सर्वे अभियान दरिबाकलां, चांदनी चौक और करोलबाग सहित कम से कम चार स्थानों पर चलाया गया।

पिछले सप्ताह सरकार ने काले धन पर अंकुश लगाने के लिए 500 और 1,000 रुपए के नोटों को चलन से बाहर कर दिया था। उसके बाद 11 नवंबर से अधिकांश आभूषण विक्रेताओं के शो-रूम बंद रहे हैं। सूत्रों के अनुसार वित्त मंत्रालय के तहत आने वाले केन्द्रीय उत्पाद शुल्क खुफिया महानिदेशालय के अधिकारियों ने सोने की बिक्री का ब्यौरा मांगते हुए इन व्यापारियों को नोटिस भेजा है। व्यापारियों से उनके पास स्टॉक की कुल मात्रा और हाल के दिनों में की गई बिक्री का पूरा ब्योरा मांगा गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.