ताज़ा खबर
 

सहारा ग्रुप की आलाशीन आंबी वैली को नहीं मिला कोई खरीददार, नीलामी प्रक्रिया बंद

उच्चतम न्यायालय को आज सूचित किया गया कि सहारा समूह की ऐंबी वैली संपत्तियों की नीलामी की प्रक्रिया रोक दी गयी है क्योंकि नीलामी के नोटिस के जवाब में किसी संभावित खरीदार से जवाब नहीं मिला।

Author नई दिल्ली | July 12, 2018 7:27 PM
सहारा समूह की ऐंबी वैली संपत्तियों की नीलामी की प्रक्रिया रोक दी गयी है क्योंकि नीलामी के नोटिस के जवाब में किसी संभावित खरीदार से जवाब नहीं मिला।

उच्चतम न्यायालय को आज सूचित किया गया कि सहारा समूह की ऐंबी वैली संपत्तियों की नीलामी की प्रक्रिया रोक दी गयी है क्योंकि नीलामी के नोटिस के जवाब में किसी संभावित खरीदार से जवाब नहीं मिला। प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा , न्यायमूर्ति रंजन गोगोई और न्यायमूर्ति ए के सिकरी की विशेष खंडपीठ को बंबई उच्च न्यायालय के आधिकारिक परिसमापक ने यह जानकारी दी। पीठ ने ऐंबी वैली में सहारा समूह की संपत्ति अपने कब्जे में लेने के लिये एक रिसीवर नियुक्त किया था। पीठ ने आधिकारिक परिसमापक को निवेशकों का धन वसूलने के लिये इन संपत्तियों की नीलामी प्रक्रिया जारी रखने का आदेश दिया था।

पीठ ने नीलामी प्रक्रिया बंद करने का आदेश देते हुये साई राइडम रियल्टर्स प्रा . लि . और प्राइम डाउन टाउन रियल इस्टेट प्रा . लि . को सेबी – सहारा खाते में एक हजार करोड़ रूपए जमा कराने का निर्देश दिया था।इससे पहले , सहारा समूह ने कहा था कि ये फर्म मुंबई के वसई में उसकी संपत्तियों को खरीदने के लिये तैयार हैं। सहारा समूह की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता विकास सिंह ने कहा कि वसई की संपत्ति की बिक्री से करीब एक हजार करोड़ रूपए मिलेंगे जिसे सेबी – सहारा खाते में जमा करा दिया जायेगा।
पीठ ने इसके बाद दोनों फर्मो से कहा कि वे आज ही 99 करोड़ रूपए का बैंक ड्राफ्ट जमा करायें और उन्हें शेष राशि जमा कराने के लिये एक समय सीमा निर्धारित कर दी।
पीठ ने दोनों फर्मो से कहा कि वे 15 अगस्त तक दो सौ करोड़ रूपए और 12 सितंबर तक 682.8 करोड . रूपए जमा करायें। न्यायालय ने उन्हें आगाह किया कि इसका पालन नहीं करने पर अवमानना कार्यवाही की जा सकती है और जमा की गयी राशि जब्त कर ली जायेगी।

HOT DEALS
  • Honor 7X Blue 64GB memory
    ₹ 16010 MRP ₹ 16999 -6%
    ₹0 Cashback
  • Honor 7X Blue 64GB memory
    ₹ 16010 MRP ₹ 16999 -6%
    ₹0 Cashback

यह सूचित करने पर कि सहारा समूह पहले ही न्यूयार्क में अपना होटल बेच चुका है , पीठ ने कंपनी से कहा कि इसका विवरण और धन के उपयोग के विवरण के साथ एक हलफनामा दाखिल किया जायेगा। सहारा समूह ने इस बीच सूचित किया कि होटल बैंक आफ चाइना की लंदन शाखा के पास गिरवी था। सहारा ने इस संबंध में एक हलफनामा दाखिल करने का आश्वासन दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App