ताज़ा खबर
 

विश्व आर्थिक मंच 2017: निर्मला सीतारमण ने कहा, भारत जैसा देश रोबोटिक्स से दूर नहीं रह सकता है

निर्मला सीतारमण ने कहा है कि औद्योगिक क्रांति से हमें जवाब मिल सकता है। इससे स्टार्ट अप को त्वरित समाधान उपलब्ध कराने में काफी मदद मिल सकती है।

Author दावोस | January 18, 2017 18:09 pm
दावोस में आयोजित विश्व आर्थिक मंच की सालाना बैठक में केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री निर्मला सीतारमण।(AP/PTI/17 Jan, 2017)

वैश्वीकरण की आलोचनाओं के बीच विश्व व्यापार मंच की सालाना बैठक में यहां केंद्रीय वाणिज्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि दुनिया को ‘इसको वास्तविकता की कसौटियों पर परखना चाहिए।’ उन्होंने साथ ही कहा कि भारत व्यापार और आर्थिक वृद्धि को बढाने की राह पर बना हुआ है। इन आलोचनाओं के बीच कि वैश्वीकरण का सबसे ज्यादा फायदा अमीरों के खाते में गया है और विषमता बढ़ी है, निर्मला ने कहा कि यहां विश्व व्यापार मंच की बैठक में बहस इस बात की है कि वैश्वीकरण का भविष्य क्या है और क्या पूंजीवाद को ‘राक्षस’ करार दिया जाना चाहिए? वाणिज्य मंत्री ने कहा, यह सच्चाई है कि आसंतोष है, विशेष रूप से उन देशों में जहां पूंजीवाद और लोकतंत्र दोनों साथ साथ काम कर रहे हैं। समय आ गया है कि थोड़ा रुक कर चीजों को फिर से साधा जाए।

उन्होंने कहा कि दुनिया को वास्तविकता की कसौटी का इस्तेमाल करना चाहिए। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि भारत विभिन्न मोर्चों पर तेजी से प्रगति कर रहा है जिसमें डिजिटल अर्थव्यवस्था का क्षेत्र भी शामिल है। उन्होंने कहा, ‘हमारे गांव डिजिटल प्रशासन के लिए तैयार हैं, पिछले दो एक साल से इस दिशा में तेजी से काम हुआ है।’ उन्होंने भारत की आर्थिक वृद्धि में सेवा क्षेत्र की अग्रणी भूमिका का उल्लेख करते हुए कहा कि ‘मेक इन इंडिया’ अभियान से बहुत से नये अवसर पैदा हुए हैं। आज उन क्षेत्रों पर ध्यान दिया जा रहा है जिनके बारे में पहले नहीं सोचा जाता था। आज कारोबार आसान बनाने के लिए राज्यों के बीच प्रतिस्पर्धा छिड़ी है।’ निर्मला ने यह भी कहा कि वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) लागू करने में हद से हद जुलाई तक का समय लगेगा और यह नयी अप्रत्यक्ष कर पणाली कराधान के क्षेत्र में कायाकल्प करने वाली साबित होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App