ताज़ा खबर
 

RBI अधिकारियों के शब्दज्ञान से बड़े-बड़े एक्सपर्ट हैरान, बातें समझने के लिये पड़ रही ‘वॉल्तेयर’ को पढ़ने की जरूरत

इन दिनों भारत में भी विश्लेषकों और समीक्षकों के लिये ग्रीनस्पैन का अमेरिकी जमाना लौट आया है। रिजर्व बैंक की हालिया मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक का ब्यौरा 21 अगस्त को जारी हुआ।

Author Published on: August 26, 2019 7:09 AM
इसमें घाटे ने अंग्रेजी के एक शब्द ‘फ्लॉक्सीनौसीनिहिलीपिलिफिकेशन’ का प्रयोग किया।

दुनिया भर में केंद्रीय बैंक अपनी बात को गोलमोल तरीके से पेश करने के लिए जाने जाते रहे हैं। भारतीय रिजर्व बैंक भी बहुत सी बातों को समझाने के लिए डोविश (कपोत), हॉकिश (बाज) या आउल (धन की देवी का वाहन) जैसे प्रतीकों का प्रयोग करता रहा है। इन दिनों आरबीआई और उसके प्रमुख के वक्तव्यों व संकेतों पर नजर रखने वाले विशेषज्ञों को अपनी शब्दावली और ज्ञान का दायरा बढ़ाने के लिए इतिहास , साहित्य और शब्दकोश के नए पन्ने पलटने पड़ रहे हैं। उन्हें हाल में इसी क्रम में अंग्रेजी के सबसे बड़े शब्दों में से एक का अर्थ समझने से लेकर फ्रांस के दार्शनिक वॉल्तेयर द्वारा गढ़े गए चरित्रों को पढ़ने की चुनौती का सामना करना पड़ा है।

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास हों या मौद्रिक नीति समिति के सदस्य चेतन घाटे हों, रिजर्व बैंक के नीति नियंताओं ने नीतिगत घोषणाओं के क्रम में अपने शब्दज्ञान से विश्लेषकों को शब्दकोश तथा वॉल्तेयर की कैंडिड जैसी रचनाओं के पन्ने पलटने पर मजबूर किया है। इससे अमेरिका के फेडरल रिजर्व के उस दौर की याद आ गयी जब एलन ग्रीनस्पैन उसके गवर्नर हुआ करते थे। ग्रीनस्पैन ने फेडरल रिजर्व के 17 साल के गवर्नर के कार्यकाल में कठिन शब्दों और पुराने दर्शनों को पलटने के कारण अलग ही ख्याति प्राप्त की थी।

इन दिनों भारत में भी विश्लेषकों और समीक्षकों के लिये ग्रीनस्पैन का अमेरिकी जमाना लौट आया है। रिजर्व बैंक की हालिया मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक का ब्यौरा 21 अगस्त को जारी हुआ। इसमें घाटे ने अंग्रेजी के एक शब्द ‘फ्लॉक्सीनौसीनिहिलीपिलिफिकेशन’ का प्रयोग किया। आॅक्सफोर्ड शब्दकोश के अनुसार इस शब्द का अर्थ ‘किसी चीज को अर्थहीन मानने या हल्के ढंग से लेने की आदत’ है। अंग्रेजी के 29 वर्ण का यह शब्द लैटिन के चार शब्दों ‘फ्लाक्सी’, ’नौसी’, ‘निहिली’ और ‘पिलि’ से मिलकर बना है।

घाटे ने उसमें कहा है कि ‘आर्थिक वृद्धि के अनुमान भले ही फ्लॉक्सीनौसीनिहिलीपिलिफिकेशन के शिकार हो गये हों, बावजूद इसके आर्थिक वृद्धि रफ्तार पकड़ रही है।’’ गवर्नर दास इतिहास के छात्र रहे हैं। उन्होंने मुंबई में 19 अगस्त को बैंंिकग के एक कार्यक्रम में अर्थव्यवस्था पर बोलते हुए इतिहास ज्ञान प्रर्दिशत कर दिया। उन्होंने अपने संबोधन में वॉल्तेयर को उद्धृत किया। उन्होंने ‘पैंग्लोसियन’ शब्द का प्रयोग किया। यह शब्द वॉल्तेयर की ऐतिहासिक व्यंग्य कृति कैंडिड के एक पात्र ‘प्रोफेसर पैंग्लॉस’ के नाम पर बना है। इसका भावार्थ ‘सकारात्मकता का अतिरेक’ है।

दास ने अपने उस उद्बोधन में कहा था, ‘‘मैं यह नहीं कह रहा हूं कि हमें अपने चेहरे पर पैंग्लोसियन भाव बनाए रहना चाहिए और हर मुश्किल में मुस्कुराते रहना चाहिए।’’ उल्लेखनीय है कि रिजर्व बैंक मौद्रिक नीति रुख के बारे में संकेत देने के लिये सामान्य तौर पर हॉकिश, डोविश जैसे शब्दों का इस्तेमाल करता रहा है। नरम आर्थिक रुख के लिये डोविश तथा सख्त आर्थिक रवैये के लिये हॉकिश शब्द का इस्तेमाल किया जाता है। रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल ने एक बार केंद्रीय बैंक की कार्यप्रणाली को समझाते हुए ‘आउल’ विशेषण का इस्तेमाल किया था। उनका तात्पर्य था कि केंद्रीय बैंक की भूमिका ‘धन की देवी के वाहन’ के समतुल्य है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Reliance Industries, HDFC समेत टॉप 7 कंपनियों को झटका, मार्केट कैपिटल में 86,880 करोड़ रुपये का नुकसान
2 EPFO: 6.3 लाख पेंशनरों को मिली बड़ी राहत, EPS के तहत मिलेगी यह सहूलियत
3 खत्म नहीं हो रहीं अनिल अंबानी की मुश्किलें, अब एक और कंपनी होगी दिवालिया