ताज़ा खबर
 

मोदी का टिम कुक को न्योता, भारत में विनिर्माण केंद्र स्थापित करे एप्पल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एप्पल को भारत में विनिर्माण केंद्र स्थापित करने का न्योता दिया है जिस पर कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी टिम कुक..

Author सन होजे | Published on: September 27, 2015 4:45 PM
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा कि एप्पल की सबसे बड़ी विनिर्माता फॉक्सकॉन ने भारत में विनिर्माण संयंत्र लगाने का फैसला किया है। (पीटीआई फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एप्पल को भारत में विनिर्माण केंद्र स्थापित करने का न्योता दिया है जिस पर कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी टिम कुक ने सकारात्मक प्रतिक्रिया दी है। अधिकारियों ने आज यह जानकारी दी।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने कुक के साथ बैठक में कहा कि वह चाहते हैं कि एप्पल भारत में विनिर्माण शुरू करे। उन्होंने यह भी बताया कि भारत कितने व्यापक अवसरों की पेशकश करता है।’’उन्होंने कहा कि एप्पल की सबसे बड़ी विनिर्माता फॉक्सकॉन ने भारत में विनिर्माण संयंत्र लगाने का फैसला किया है।

स्वरूप ने बताया कि कुक ने इस पर सकारात्मक प्रतिक्रिया दी है। ‘‘मुझे लगता है कि भारत एप्पल की दीर्घावधि की योजना में अनुकूल बैठता है।’’ उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने इस बात का उल्लेख किया है कि भारत में सार्वजनिक क्षेत्र है, निजी क्षेत्र है और व्यक्तिगत क्षेत्र है। व्यक्तिगत क्षेत्र से उनका अभिप्राय उन लोगों से जो अपने बल पर उद्यमी बने हैं।

स्वरूप ने कहा, ‘‘कुक ने कहा कि एप विकास टूल्स के जरिये लोग इस बड़े उद्योग का हिस्सा बन सकते हैं। उन्होंने चीन का उदाहरण भी दिया जहां उन्होंने 15 लाख नौकरियों का सृजन किया।’’

अमेरिका में भारत के राजदूत अरुण के सिंह ने कहा कि बैठक के दौरान यह बात उभर कर आई कि भारत में काफी डिजाइन नवोन्मेषण हो रहा है। स्वरूप ने बताया कि इसके अलावा एप्पल पे पर भी चर्चा हुई कि कैसे यह जनधन योजना का हिस्सा बन सकती है।

बैठक के दौरान कुक ने बताया कि एप्पल के प्रत्येक कर्मचारी के दिल में भारत के लिए विशेष स्थान है। इसकी वजह यह है कि स्टीव जॉब्स युवावस्था में भारत गए थे। भारत में उन्होंने जो देखा उसी से प्रेरित होकर उन्होंने एप्पल की शुरुआत की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories