ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी सरकार जल्द कर सकती है 3 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान, आम लोगों और उद्योगों को मिल सकती हैं 7 बड़ी राहतें

Coronavirus relief package by narendra modi government: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से इस सप्ताह के अंत तक पैकेज की घोषणा की जा सकती है। इसके अलावा अन्य कई मंत्रालयों की ओर से भी पैकेज के ऐलान किए जा सकते हैं।

nirmala sithramanनिर्मला सीतारमण कर सकती हैं 3 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान

कोरोना लॉकडाउन के चलते मंद हुई अर्थव्यवस्था और गरीबों पर बढ़े आजीविका के संकट को दूर करने के लिए केंद्र की मोदी सरकार की ओर से जल्दी ही 3 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान किया जा सकता है। बिजनस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से इस सप्ताह के अंत तक पैकेज की घोषणा की जा सकती है। इसके अलावा अन्य कई मंत्रालयों की ओर से भी पैकेज के ऐलान किए जा सकते हैं।

माना जा रहा है कि जी-20 देशों की ओर से जारी किए गए पैकेज के अनुपात को ध्यान में रखते हुए ही सरकार की ओर से घोषणा की जाएगी। सरकारी अधिकारियों ने पैकेज की संभावना जताते हुए कहा है कि सरकार ने अपने कर्ज को 7.8 लाख करोड़ रुपये से बढ़ाकर 12 लाख करोड़ रुपये कर लिया है। ऐसे में माना जा रहा है कि सरकार की ओर से इस अतिरिक्त रकम को अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए पैकेज के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है।

अर्थव्यवस्था के जानकारों के मुताबिक सरकार की योजना ज्यादा से ज्यादा सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों को राहत पहुंचाने की है। बता दें कि बीते कई दिनों से केंद्रीय सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्री नितिन गडकरी यह कहते रहे हैं कि सरकार की ओर से जल्दी ही उद्योगों को बचाने के लिए पैकेज का ऐलान किया जाएगा। सरकारी सूत्रों के मुताबिक मार्च के आखिरी सप्ताह में सरकार की ओर से दिए गए 1.7 लाख करोड़ रुपये के पैकेज के मुकाबले यह काफी अधिक होगा और बड़े तबके को कवर करेगा। आइए जानते हैं, क्या हैं सरकार के इस पैकेज से उम्मीदें…

– डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर स्कीमों को कुछ और महीनों के लिए बढ़ाया जा सकता है।

– पीएम किसान योजना की एक और किस्त जल्दी ही जारी करने का ऐलान हो सकता है।

– लघु उद्योगों के वर्किंग कैपिटल लोन्स पर क्रेडिट गारंटी स्कीम के ऐलान की भी संभावना।

– मनरेगा के तहत मजदूरी की दर कुछ और बढ़ाई जा सकती है।

– ग्रीन जोन और ऑरेंज जोन में स्थापित उद्योगों में गतिविधियों को बढ़ाया जा सकता है।

– ट्रेन, हवाई यात्राओं को लेकर विस्तार से जानकारी दी जा सकती है।

– लॉकडाउन से सबसे ज्यादा प्रभावित हॉस्पिटैलिटी, टूरिज्म, ट्रैवल इंडस्ट्री के लिए पैकेज जका ऐलान हो सकता है। ऑटो सेक्टर को भी कुछ बड़ी राहतें दी जा सकती हैं।

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबाजानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिएइन तरीकों से संक्रमण से बचाएंक्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बीजेपी शासित यूपी और मध्य प्रदेश में श्रम कानूनों में ढील के खिलाफ उतरा RSS से जुड़ा संगठन भारतीय मजदूर संघ
2 रेलवे ने स्पेशल ट्रेनों की बुकिंग से चंद घटों में कमाए 16 करोड़ रुपये, 82,317 यात्रियों को जारी किए गए टिकट
3 कोरोना में भी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड को मिला जबरदस्त रिटर्न, दुनिया में 5वें नंबर पर मुकेश अंबानी की कंपनी
ये पढ़ा क्या?
X