ताज़ा खबर
 

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने TCS को पछाड़कर फिर हासिल किया नंबर वन का दर्जा, बाजार पूंजीकरण में पछाड़ा

Reliance Industries Limited top in market capitalization: बीएसई सेंसेक्स में बुधवार को कंपनी के शेयरों में 9.74 फीसदी का उछाल देखने को मिला और शेयरों के दाम 1,035 रुपये के लेवल पर पहुंच गए।

mukesh ambaniमुकेश अंबानी और रतन टाटा

Reliance Industries Limited top in market capitalization: भले ही कोरोना इफेक्ट के चलते देश के सबसे रईस शख्स मुकेश अंबानी की संपत्ति में करीब 40 फीसदी की कमी आई है, लेकिन उनकी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने बड़ी उछाल दर्ज की है। बुधवार को शेयर मार्केट के कारोबार में आई उछाल के चलते रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने टीसीएस को पछाड़कर एक बार फिर से देश की सबसे ज्यादा पूंजी वाली कंपनी का रुतबा हासिल कर लिया है।

बीएसई सेंसेक्स में बुधवार को कंपनी के शेयरों में 9.74 फीसदी का उछाल देखने को मिला और शेयरों के दाम 1,035 रुपये के लेवल पर पहुंच गए। एनएसई में कंपनी के शेयर 9.61 फीसदी की तेजी के साथ 1,034 रुपये के लेवल पर पहुंच गए। इसके साथ ही कंपनी का मार्केट वैल्यूएशन 6,49,838.31 रुपये हो गया।

हाल ही में टाटा ग्रुप की कंपनी टीसीएस ने रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड को पछाड़कर पहला नंबर हासिल कर लिया था। हालांकि टाटा समूह की कंपनी ज्यादा समय तक इस बढ़त को कायम नहीं रख सकी। बुधवार को टीसीएस की मार्केट वैल्यूएशन 6,46,460 करोड़ रुपये थी।

गौरतलब है कि मुकेश अंबानी की दौलत फिलहाल 32.6 अरब अमेरिकी डॉलर यानी करीब 2 लाख 48 हजार करोड़ रुपये की दौलत है। इस साल की शुरुआत में उनकी दौलत 58.6 अरब डॉलर थी। इस तरह उनकी दौलत में करीब 45 फीसदी की बड़ी गिरावट आ चुकी है। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक इस साल के अब तक के तीन महीनों में ही मुकेश अंबानी बीते साल की अपनी कमाई से ज्यादा गंवा चुके हैं।

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा | जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं | क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कोरोना से लॉकडाउन के चलते डूब जाएंगे 9 लाख करोड़ रुपये, आरबीआई से राहत की उम्मीद, ब्याज दरों में हो सकती है बड़ी कटौती
2 दुनिया कोरोना वायरस से लॉकडाउन, चीन ने फिर शुरू कीं अपनी फैक्ट्रियां, काम पर लौट रहे लोग
3 फूड नेशनलिज्म: देशों ने भी शुरू किया राशन जमा करना, एक्सपोर्ट पर लगी रोक, गेहूं, आलू, प्याज जैसी चीजों की जमाखोरी