ताज़ा खबर
 

लोगों को केबल कनेक्‍शन के साथ इंटरनेट, फोन और लाइव स्‍ट्रीमिंग का पैकेज देने की तैयारी कर रहे मुकेश अंबानी

रिलांयस के एक कर्मचारी ने बताया कि वर्तमान में 10 लाख सब्‍सक्राइबर का लक्ष्‍य रखा गया है।

नई दिल्‍ली | Updated: March 8, 2016 6:26 PM
मुकेश अंबानी और अनिल अंबानी।

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी अब केबल टीवी सेक्‍टर में उतरने की तैयारी में है। इसके तहत वे अगले तीन साल में 2 बिलियन डॉलर यानि 134 करोड़ रुपये खर्च करेंगे। हालांकि रिलायंस इंडस्‍ट्रीज ने इस पर कोई टिप्‍पणी नहीं की। लेकिन इस मामले से जुड़े दो लोगों ने समाचार एजेंसी रॉयटर्स को बताया कि मुकेश अंबानी की नजरें इस सेक्‍टर पर लगी हुई है। अगर मुकेश अंबानी इस सेक्‍टर में उतरते हैं तो छोटे भाई अनिल अंबानी से भी उनका सामना होगा। अनिल बिग टीवी के जरिए लंबे समय से केबल सेक्‍टर में मौजूद हैं।

अंबानी की कंपनी छोटे छोटे केबल टीवी ऑपरेटर्स से डील कर रही है। जिसके जरिए इस सेक्‍टर में अपना सिक्‍का जमाया जा सके। मामले से जुड़े लोगों का कहना है कि इसके तहत कंपनी हैथवे केबल, डेन नेटवर्क और सिटी केबल से भी डील कर रही है। रिलांयस के एक कर्मचारी ने बताया कि वर्तमान में 10 लाख सब्‍सक्राइबर का लक्ष्‍य रखा गया है। तीन साल में 20 मिलियन यानि 2 करोड़ उपभोक्‍ताओं का लक्ष्‍य रखा गया है।

वर्तमान में भारत में 2 करोड़ घरों में ब्रॉडबैंड या इंटरनेट कनेक्‍शन है। इनमें से भी केवल 1.70 लाख लोग ही ऑप्टिकल फाइबर के जरिए वायरलैस इंटरनेट यूज कर रहे हैं। रिलायंस एक्‍जीक्‍यूटिव का कहना है कि कंपनी टीवी चैनल, वीडियो ऑन डिमांड, ब्रॉडबैंड इंटरनेट, लैंडलाइन कनेक्शन और होम सर्विलेंस सिस्‍टम एक साथ एक ही पैकेज में देगी। साथ ही जियो प्‍ले की सुविधा भी दी जाएगी। जियो प्‍ले नेट फ्लिक्‍स की तरह फिल्‍में और टीवी सीरिज मुहैया कराती है। वर्तमान में डीटीएच सेक्‍टर में टाटा स्‍काई, बिग टीवी, एयरटेल डिजीटल, वीडियोकॉन और डिश टीवी मौजूद है।

Next Stories
1 विजय माल्या के आए बुरे दिन, भारत छोड़ने से रोक लगाने की याचिका पर सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट
2 EPF Tax: विरोध के आगे झुकी सरकार, अरुण जेटली ने वापस लिया प्रस्ताव
3 West Bengal: मुर्शिदाबाद में ब्‍लास्‍ट, 3 मरे, 100 क्रूड बम बरामद, ममता बनर्जी की पार्टी के दो गुटों पर शक
ये पढ़ा क्या?
X