ताज़ा खबर
 

कोरोना में भी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड को मिला जबरदस्त रिटर्न, दुनिया में 5वें नंबर पर मुकेश अंबानी की कंपनी

रिलायंस ही शेयर बाजार में वह कंपनी थी, जिसकी उछाल के चलते शेयर बाजार भी संभलता दिखा। शेयर बाजार में आई कुल तेजी में रिलायंस, एचडीएफसी बैंक और इन्फोसिस का ही 58 फीसदी का योगदान रहा है।

mukesh ambaniरिटर्न के मामले में टॉप 5 में रिलायंस इंडस्ट्रीज

कोरोना वायरस के चलते दुनिया भर में हुए लॉकडाउन जैसे हालात से तमाम कंपनियों के कारोबार में गिरावट आई है। हालांकि मार्च से पैदा हुए इस संकट के बीच भी भारत की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने इस दौरान भी शानदार प्रदर्शन किया है। मार्केट कैपिटलाइजेशन के लिहाज से देश की सबसे बड़ी कंपनी के शेयरों ने काफी उछाल हासिल किया और दुनिया की 5 टॉप कंपनियों में से रही, जिसने इस मंदी में भी तेजी के साथ ग्रोथ की। बीते 30 ट्रेडिंग सेशंस में रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के शेयरों में 78.4 फीसदी का उछाल देखने को मिला।

रिलायंस ही शेयर बाजार में वह कंपनी थी, जिसकी उछाल के चलते शेयर बाजार भी संभलता दिखा। शेयर बाजार में आई कुल तेजी में रिलायंस, एचडीएफसी बैंक और इन्फोसिस का ही 58 फीसदी का योगदान रहा है। 23 मार्च को 52 सप्ताह की सबसे बड़ी गिरावट के बाद धीरे-धीरे मार्केट में सुधार देखने को मिला है। एशिया के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी की लीडरशिप वाले रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ग्रुप की मार्केट कैपिटलाइजेशन में 20 मार्च के बाद से अब तक 46.35 अरब डॉलर का इजाफा हुआ है। कोरोना के संकट के इस दौर में भी इतना जबरदस्त रिटर्न हासिल करने वाली रिलायंस दुनिया की 5वें नंबर की कंपनी है।

एलन मस्क की कंपनी पहले नंबर पर: रिलायंस के अलावा एलन मस्क की कंपनी टेस्ला, टी-मोबाइल US, पेपल होल्डिंग्स और शेवरोन कॉरपोरेशन ने इस दौरान बड़ी ग्रोथ दर्ज की है। टेस्ला को इस दौरान 93.1% और T-Mobile US को 90.6% का रिटर्न मिला है। दरअसल रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की इस ग्रोथ की वजह यह भी है कि कंपनी ने तेल और केमिकल के बिजनेस से खुद को डायवर्ट करते हुए टेलिकॉम और रिटेल के धंधे की ओर कदम बढ़ा दिए हैं।

जियो में निवेश लाकर तेजी से बढ़ाए कदम: रिलायंस जियो में फेसुबक की ओर से 43,574 करोड़ रुपये के निवेश और फिर सिल्वर लेक और विस्टा इक्विटी से बड़ा निवेश हासिल करने के बाद से रिलायंस के शेयरों में तेजी देखने को मिल रही है। यही नहीं रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने 14 मई को राइट्स इश्यू लाने का भी फैसला लिया है। ऐसे में माना जा रहा है कि आने वाले कुछ दिनों में रिलायंस के शेयरों में और तेजी आ सकती है। दरअसल मुकेश अंबानी ने मार्च, 2021 तक रिलायंस समूह को पूरी तरह से कर्ज मुक्त करने का लक्ष्य रखा है। इसी के तहत ग्रुप ने फेसबुक समेत कई कंपनियों से निवेश के लिए डील की है। इसके अलावा रिलायंस समूह की ओर से एशियन पेंट्स में अपने शेयरों को भी बेच दिया गया है।

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबाजानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिएइन तरीकों से संक्रमण से बचाएंक्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 उड़ानें भी जल्द शुरू होने के संकेत, ट्रेन से प्लेन तक चलेंगे ये नियम, जानें- बुकिंग से यात्रा तक हर जरूरी बात
2 कर्ज उतारने के लिए अनिल अंबानी ने दो बिजली कंपनियों की 51 फीसदी हिस्सेदारी बेचने का लिया फैसला, 8 खरीददारों ने दिखाई दिलचस्पी
3 7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में होगी 30 फीसदी की कटौती? वित्त मंत्रालय ने कहा- अफवाहों पर न दें ध्यान