ताज़ा खबर
 

अपने बच्चों से क्या चाहते थे मुकेश अंबानी? जानें, एशिया के सबसे अमीर शख्स ने दिया क्या जवाब

नीता अंबानी ने कहा था इतना ही नहीं मेरे बच्चे मुझसे भी एयर इंडिया से ही सफर करने के लिए कहते हैं। मुकेश अंबानी ने कहा था सभी को अपनी जिंदगी में अपनी प्रायोरिटीज सही रखनी चाहिए।

Author Edited By यतेंद्र पूनिया नई दिल्ली | Updated: October 8, 2020 11:00 AM
mukesh ambani and nita ambaniमुकेश अंबानी एवं नीता अंबानी

एशिया के सबसे अमीर शख्स और रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के मालिक मुकेश अंबानी और उनकी पत्नी नीता अंबानी हमेशा से अपने बच्चों को लेकर बेहद सजग रहे हैं। एक तरफ वह पैरेंटिंग में सख्त रहे हैं तो दूसरी तरफ बच्चों की सभी जरूरतों का ख्याल भी रखते रहे हैं। पिछले दिनों Verve मैगज़ीन को इंटरव्यू देते हुए नीता अंबानी और मुकेश अंबानी ने कहा था कि उनके बच्चे जमीनी हैं और लगभग सामान्य जीवन ही जीते हैं। मुकेश अंबानी ने Verve मैगज़ीन से कहा था कि पढ़ाई के मामले में बच्चे भले ही टॉप 1 पर्सेंट में न हों, पर उनके बेसिक्स क्लियर होने चाहिए।

मुकेश अंबानी ने अपने बच्चों के स्कूल दिनों को याद करते हुए कहा था कि एकबार मेरा बड़ा बेटा आकाश बोला – पापा जब कैलकुलेटर है तो मुझे टेबल (पहाड़े) याद करने की क्या जरूरत है। तो मैंने आकाश को समझाया जरूरी है आप सब कुछ अपने दिमाग से करें। कोशिश करो सोने से पहले तुम दिल से एडिशन और मल्टीप्लिकेशन टेबल सुनाओ। नीता अंबानी ने कहा उनके बच्चे बेहद सामान्य जीवन जीते हैं। बच्चों की हॉस्टल लाइफ का जिक्र करते हुए नीता अंबानी ने कहा था ईशा को हॉस्टल में 18-20 लड़कियों के साथ बाथरूम शेयर करना पड़ता था। आकाश भी हॉस्टल में ही रहे हैं।

हमेशा सही रखी चाहिए प्राथमिकताएं: नीता अंबानी ने Verve मैगज़ीन को बताया था कि उनके बच्चे सामान्य जीवन जीते हैं। उन्होंने कभी आकाश, ईशा और अनंत को लेने के लिए निजी विमान नहीं भेजा। हमारे बच्चे एयर इंडिया से ही यात्रा करते हैं। नीता अंबानी ने कहा था इतना ही नहीं मेरे बच्चे मुझसे भी एयर इंडिया से ही सफर करने के लिए कहते हैं। मुकेश अंबानी ने कहा था सभी को अपनी जिंदगी में अपनी प्रायोरिटीज सही रखनी चाहिए। मुकेश अंबानी ने बताया था उन्होंने यह सब अपने पिता धीरूभाई अंबानी से सीखा है। मुकेश अंबानी ने इंटरव्यू में कहा था जब उनके पिता बहुत व्यस्त होने के बावजूद अपने परिवार के लिए समय निकाल लिया करते थे।

मुकेश के बिना नीता अंबानी नहीं करतीं डिनर: नीता अंबानी ने इस इंटरव्यू में आगे बताया था कि पिता के तौर पर मुकेश अंबानी बेहद व्यवहारिक हैं। मैं कभी मुकेश के बिना डिनर नहीं करती। घर आने पर मुकेश अंबानी भी बच्चों को अपने आसपास चाहते हैं। नीता अंबानी ने बताया था कि जब बच्चे छोटे थे तो मुकेश अंबानी खुद बच्चों को मैथ्स, फिजिक्स और केमिस्ट्री पढ़ाने पर जोर दिया करते थे।

नीता अंबानी बोलीं, अब भी मिडिल क्लास वाली है सोच: नीता अंबानी ने आगे कहा था मेरा पालन पोषण मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ है और अब तक मेरी सोच मिडिल क्लास वाली है। मैं बहुत डाउन टू अर्थ हूं और अपनी सोच और वैल्यूज में आज भी मिडिल क्लास महिला हूं। मेरे और मुकेश अंबानी के लिए सामान्य रहना ज्यादा महत्वपूर्ण है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 रेंज रोवर कार से चलते हैं आचार्य बालकृष्ण और आईफोन का करते हैं इस्तेमाल, जानें- कैसी है लाइफस्टाइल
2 इस शहर में सिर्फ एक घंटे की होगी 1,839 रुपये न्यूनतम मजदूरी, आने वाला है नया कानून, जानें- कहां कितनी
3 इन कंपनियों के 70,000 कर्मचारी करने जा रहे हैं हड़ताल, मोदी सरकार के इस फैसले के हैं खिलाफ
ये पढ़ा क्या?
X