ताज़ा खबर
 

‘मोदी यात्रा से निवेश गंतव्य के रूप में भारत को लेकर धारणा मजबूत हुई’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया व जापान जैसे देशों की यात्राओं से निवेश गंतव्य के रूप में भारत को लेकर धारणा मजबूत हुई है। उद्योग मंडल एसोचैम के एक सर्वेक्षण में यह तथ्य सामने आया है। इसमें कहा गया है कि मोदी की इन यात्राओं से वैश्विक निवेशकों के बीच भारत एक उदीयमान व […]

December 7, 2014 2:00 PM

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया व जापान जैसे देशों की यात्राओं से निवेश गंतव्य के रूप में भारत को लेकर धारणा मजबूत हुई है। उद्योग मंडल एसोचैम के एक सर्वेक्षण में यह तथ्य सामने आया है। इसमें कहा गया है कि मोदी की इन यात्राओं से वैश्विक निवेशकों के बीच भारत एक उदीयमान व स्थिर निवेश गंतव्य के रूप में उभरा है।

यह सर्वेक्षण एसोचैम के अमेरिका व ऑस्ट्रेलिया के विदेश कार्यालयों द्वारा किया गया। सर्वेक्षण का मकसद भारत से पहले से अपनी उपस्थिति दर्ज कर चुकी या यहां आने की योजना बना रही बहुराष्ट्रीय कंपनियों का ‘मूड’ पता लगाना था।

इन कंपनियों के 71 प्रतिशत वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि निवेश गंतव्य के रूप में उभरते देशों में भारत उनकी सूची में सबसे ऊपर है। वहीं 53 प्रतिशत का कहना था कि निवेश गंतव्य के रूप में वृद्धि क्षमता के मामले में भारत में चीन को पीछे छोड़ने की क्षमता है।

उल्लेखनीय रूप से अमेरिका, जापान, ऑस्ट्रेलिया, सिंगापुर, मलेशिया व पश्चिम एशिया के 161 अधिकारियों में से 73 प्रतिशत की राय थी कि मोदी व्यापार में सुगमता, बुनियादी ढांचे में सुधार व नीतिगत मसलों पर अड़चनों को दूर करने के अपने वादे को पूरा कर पाएंगे। सर्वेक्षण में शामिल 89 प्रतिशत लोगों का कहना था कि वैश्विक निवेशकों की धारणा में बदलाव की वजह भारत का नेतृत्व है। सर्वेक्षण में यह भी कहा गया है कि आस्ट्रेलिया की कंपनियां प्रधानमंत्री के प्रमुख स्मार्ट सिटी, स्वच्छ गंगा व शहरी ढांचे में सुधार की योजना में शामिल होना चाहती हैं।

Next Stories
1 ‘केरोसिन पर सबसिडी खत्म नहीं करे मोदी सरकार’
2 सबसिडी को तर्कसंगत बनाने के लिए जल्द उठाएंगे कदम: जेटली
3 नीतिगत विषयों पर चर्चा करे विपक्ष: सुमित्रा महाजन
यह पढ़ा क्या?
X