ताज़ा खबर
 

राजनीतिक चंदा जुटाने के लिए सरकार ने दी बॉन्ड को मंजूरी, नए साल में SBI के 29 ब्रांच करेंगे जारी

बता दें कि भारतीय स्टेट बैंक द्वारा की गयी 14वें चरण की बिक्री में करीब 282 करोड़ रुपये के बॉन्ड बेचे गये थे। यह बिक्री बिहार चुनाव से ठीक पहले हुई थी।

Modi Government, Electoral Bonds, SBIचुनावी बॉन्ड की बिक्री एक से 10 मार्च, 2018 के दौरान हुई थी। (Photo-Indian express )

सरकार ने चुनावी बॉन्ड के 15वें चरण को मंजूरी दे दी। इसके तहत चुनावी बॉन्ड की बिक्री एक जनवरी को खुलकर 10 जनवरी को बंद होगी। राजनीतिक चंदे में पारदर्शिता लाने के लिए चुनावी बॉन्ड शुरू किया गया है।

इसे राजनीतिक दलों को दिए जाने वाले नकद चंदे के विकल्प के रूप में देखा जाता है। वित्त मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि एक जनवरी, 2021 से 10 जनवरी, 2021 तक भारतीय स्टेट बैंक अपनी 29 अधिकृत शाखाओं के जरिये चुनावी बॉन्ड जारी करेगा और उसके लिए भुगतान करेगा। एसबीआई की 29 अधिकृत शाखाएं पटना, नयी दिल्ली, चंडीगढ़, शिमला, श्रीनगर, देहरादून, गांधीनगर, भोपाल, रायपुर, मुंबई और लखनऊ में है।

पहले चरण के चुनावी बॉन्ड की बिक्री एक से 10 मार्च, 2018 के दौरान हुई थी। आपको बता दें कि भारतीय स्टेट बैंक द्वारा की गयी 14वें चरण की बिक्री में करीब 282 करोड़ रुपये के बॉन्ड बेचे गये थे। यह बिक्री बिहार चुनाव से ठीक पहले हुई थी। ये व्यवस्था दानकर्ताओं की पहचान नहीं खोलती और इसे टैक्स से भी छूट प्राप्त है।

बॉन्ड जारी करने वाले महीने के 10 दिनों के भीतर कोई व्यक्ति, लोगों का समूह या या कॉरपोरेट एसबीआई की निर्धारित शाखाओं से चुनावी बॉन्ड खरीद सकता है। यह बॉन्ड साल में चार बार जनवरी, अप्रैल, जुलाई और अक्टूबर में जारी किए जाते हैं। ग्राहक बैंक की शाखा या वेबसाइट पर जाकर इसे खरीद सकता है।

Next Stories
1 दिलीप छाबड़िया ने डिजाइन की थी भारत की पहली स्पोर्ट्स कार, इन कारों का भी बदल चुके हैं कलेवर
2 जब लॉन्च की थी पूरी देसी इंडिका कार तो रतन टाटा से सारे दोस्तों ने कर लिया था किनारा
3 रिलायंस ने फ्यूचर ग्रुप को दिए बड़े ऑर्डर, Amazon की वजह से अटकी है 24,713 करोड़ की डील
ये पढ़ा क्या?
X