सर्च इंजन Bing के इस्तेमाल पर Microsoft देगा इनाम, जानिए कैसे - Microsoft will reward its users using search engine Bing instead of google - Jansatta
ताज़ा खबर
 

सर्च इंजन Bing के इस्तेमाल पर Microsoft देगा इनाम, जानिए कैसे

अपने सर्च इंजिन Bing की रीच को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने के लिए माइक्रोसॉफ्ट ने अब नया ऑफर देगा।

प्रतीकात्मक फोटो। (Source: Agency)

अपने सर्च इंजिन Bing की रीच को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने के लिए माइक्रोसॉफ्ट ने अब नया ऑफर देगा। सर्च इंजन गूगल से टक्कर लेने की कोशिश में कंपनी ने यह फैसला लिया है। माइक्रोसॉफ्ट नए ऑफर के तहत अब अपने सर्च इंजन Bing से सर्च करने पर लोगों को फ्री गिफ्ट्स देगा। माइक्रोसॉफ्ट के रिवॉर्ड प्रोग्राम की शुरुआत के तहत यूजर्स को Bing से सर्च करने पर इनाम दिए जाएगा। हालांकि विदेशी रिपोर्ट्स के मुताबिक अभी यह सुविधा सिर्फ यूनाइटेड किंगडम में ही लॉन्च होगी। वहीं बिंग यूज करने पर माइक्रोसॉफ्ट रिवॉर्ड पॉइंट्स देगा जिन्हें फ्री गिफ्ट्स में बदला जा सकेगा।

कैसे होगा इस्तेमाल
रिवॉर्ड पॉइन्ट्स पाने के लिए यूजर को सबसे पहले अपने माइक्रोसॉफ्ट अकाउंट से बिंग लॉगइन करना होगा। हर बिंग सर्च के लिए यूजर को तीन पॉइन्ट्स मिलेंगे। वहीं माइक्रोसॉफ्ट का वेब ब्राउजर इस्तेमाल करने पर प्वॉइंट्स डबल हो जाएंगे। वहीं इसमें अलग-अलग लेवल्स भी होंगे। लेवल 1 यूजर्स रोज 10 चीजें सर्च करके 60 पाइन्ट्स कमा सकेंगे। वहीं 500 पॉइन्ट्स तक पहुंचने पर आप लेवल 2 के मेंबर बन जाएंगे और रोड बिंग सर्च से 150 पाइन्ट्स कमा सकेंगे।

एक्सचेंज ऑफर
रिवॉर्ड पॉइन्ट्स को प्राइज के लिए एक्सचेंज किया जा सकेगा। इनमें एक्सबॉक्स लाइव गोल्ड मेंबरशिप जैसी सर्विसिस होंगी। इसके अलाव माइक्रोसॉफ्ट के एक साल के ग्रूव म्यूजिक पास के लिए आपको 1 लाख 10 हजार प्वॉइंट्स की जरूरत होगी।

माना जा रहा है माइक्रोसलॉफ्ट ने यह कदम गूगल को कड़ी टक्कर देने के लिए उठाया है। बता दें दुनिया में सर्च इंजन बाजार में गूगल का लंबे समय से दबदबा कायम है। 77.98 फीसद शेयर के साथ गूगल नंबर एक पर है। वहीं दूसरे नंबर पर बिंग है जिसकी हिस्सेदारी महज 7.8 फीसद है। गौरतलब है कि गूगल भी मार्केट में अपना दबदबा कायम रखने के लिए नए प्लैन्स बनाता रहता है। हाल ही में गूगल यूके में अपना नया हेडक्वार्टर बनाने की प्लानिंग कर रहा है। माना जा रहा है कंपनी लंदन में खुद को और ज्यादा एक्सपैंड करना चाहती है। लंदन में प्रस्तावित गूगल का यह हेडक्वार्टर यूरोपियन यूनियन की सबसे बड़ी बिल्डिंग से भी बड़ा होगा। यह विशालकाय बिल्डिंग में 10 लाख स्कावायर फीट जगह होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App