ताज़ा खबर
 

माइक्रोमैक्स भारतीय स्मार्टफोन बाज़ार में शीर्ष पर, सैमसंग ने जताया एतराज़

शोध कार्य कंपनी कैनेलिस के मुताबिक मोबाइल हैंडसेट बनाने वाली घरेलू कंपनी माइक्रोमैक्स ने देश की सबसे बड़ी स्मार्टफोन कंपनी के तौर पर सैमसंग को पीछे छोड़ दिया है। जबकि कोरिया की प्रमुख कंपनी सैमसंग ने इस पर आपत्ति जताते हुए कहा कि वह अभी भी शीर्ष पर है। कैनेलिस की रपट के मुताबिक माइक्रोमैक्स […]

Author Updated: February 4, 2015 7:49 PM

शोध कार्य कंपनी कैनेलिस के मुताबिक मोबाइल हैंडसेट बनाने वाली घरेलू कंपनी माइक्रोमैक्स ने देश की सबसे बड़ी स्मार्टफोन कंपनी के तौर पर सैमसंग को पीछे छोड़ दिया है। जबकि कोरिया की प्रमुख कंपनी सैमसंग ने इस पर आपत्ति जताते हुए कहा कि वह अभी भी शीर्ष पर है।

कैनेलिस की रपट के मुताबिक माइक्रोमैक्स ने भारतीय स्मार्टफोन बाजार में अक्तूबर-दिसंबर 2014 की तिमाही में 22 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी के साथ सैमसंग को पछाड़ दिया जिसकी हिस्सेदारी 20 प्रतिशत है।

हालांकि, सैमसंग ने कैनेलिस की रपट को खारिज करते हुए कहा कि जीएफके के आंकड़े के मुताबिक भारतीय स्मार्टफोन बाजार में उसकी बाजार हिस्सेदारी 34.3 प्रतिशत है। यह आंकड़ा वास्तविक बिक्री आंकड़ों पर आधारित है और इस तरह वह माइक्रोमैक्स से आगे है।

कैनेलिस के आंकड़े को गलत करार देते हुए सैमसंग ने कहा कि बाजार शोध कंपनी जीएफके वास्तविक बिक्री के आंकड़े देती है इसलिए उद्योग इसे तरजीह देते हैं।

सैमसंग इंडिया विपणन उपाध्यक्ष (मोबाइल कारोबार) असीम वारसी ने पीटीआई-भाषा से कहा ‘‘हम कैनेलिस से असहमत हैं। हमें इस अंकड़े की शुद्धता पर भरोसा नहीं है। एक आंकड़ा उत्पाद निकासी (कैनेलिस) के बारे में है और दूसरा उपभोक्ता बिक्री (जीएफके) से जुड़ा है।’’ जीएफके के आंकड़े ज्यादा वैज्ञानिक हैं और इससे खुदरा बिक्री जाहिर होती है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अरुण जेटली ने ‘आप’ को मिले चंदे को कालाधन दिया करार
2 पेट्रोल 2.42 रुपए, डीज़ल 2.25 रुपए प्रति लीटर सस्ता
3 RBI की क्रेडिट पॉलिसी का ऐलान, ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं
ये पढ़ा क्या?
X