ताज़ा खबर
 

गड़बड़ी की शिकायत के बाद मारुति ने वापस मंगाई 40,618 WagonR कार

Maruti Suzuki WagonR: मारुति सुजुकी के मुताबिक कंपनी के डीलर्स ग्राहकों को 24 अगस्त से संपर्क करेंगे और बिना किसी चार्ज के उनकी कार में पाए जाने वाली इस कमी को दूर करेंगे।

Author नई दिल्ली | Published on: August 23, 2019 2:46 PM
मारुति सुजुकी वैगर-आर।

Maruti Suzuki WagonR: देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड ने अपनी 40,618 बजट फोर व्हीलर वैगर-आर कार में गड़बड़ी की शिकायत के बाद इन्हें रिकॉल किया है। कंपनी ने 15 नवंबर 2018 से 12 अगस्त 2019 के बीच मैन्युफैक्चर की गई कारों को वापस मंगाया है। कंपनी के मुताबिक इन कारों में ईंधन की नली में कुछ दिक्कत है जिसकी जांच की जाएगी।

मारुति सुजुकी के मुताबिक कंपनी के डीलर्स ग्राहकों को 24 अगस्त से संपर्क करेंगे और बिना किसी चार्ज के उनकी कार में पाए जाने वाली इस कमी को दूर करेंगे। मालूम हो कि ऑटो कंपनियां अपनी यूनिट्स में शिकायत मिलने के बाद समय-समय पर कारों को रिकॉल करती हैं। कंपनी ऐसा कस्टमर को भरोसे में रखने और मार्केट में ब्रांड की छवि को बनाए रखने के लिए करती है।

मारुति सुजुकी इंडिया ने वाहन उद्योग में जारी सुस्ती के मद्देनजर जुलाई महीने में उत्पादन में 25.15 प्रतिशत की कटौती की है। यह लगातार छठवां महीना है जब कंपनी ने उत्पादन घटाया है। मारुति ने हाल ही में जारी एक रिपोर्ट में बताया कि, उसने जुलाई 2019 में 1,33,625 वाहनों का उत्पादन किया है। एक साल पहले इसी महीने में कंपनी ने 1,78,533 इकाइयों का उत्पादन किया था।

कंपनी ने बताया कि, मारुति आल्टो, वैगनआर, सेलेरियो, इग्निस, स्विफ्ट, बलेनो, डिजायर समेत छोटी और कॉम्पैक्ट सेग्मेंट में जुलाई 2019 में उत्पादन 25 प्रतिशत घटकर 95,733 वाहनों पर रहा। जिप्सी, विटारा ब्रेजा, अर्टिगा और एस-क्रॉस जैसे यूटिलिटी वाहनों का उत्पादन 21.26 प्रतिशत घटकर 19,464 इकाइयों पर रहा। गौरतलब है कि देश का ऑटोमोबाइल बाजार बुरे दौर से गुजर रहा है। लगातार गिरती बिक्री के ​चलते कार और बाइक निर्माता कंपनियां बड़े पैमाने पर नौकरियों में कटौतियां कर रही हैं। यहां तक की कई कंपनियों ने अपने कारखानों को भी बंद कर दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 HSBC बैंक में छंटनी, भारत के दो शहरों से निकाले कई अफसर
2 नीति आयोग उपाध्यक्ष की चेतावनी, बोले- 70 सालों में पहली बार बाजार की ऐसी हालत, सरकार उठाए जरूरी कदम
3 आर्थिक मंदीः अब Toyota और Hyundai ने भी रोका कार बनाना, गई सैकड़ों और कर्मचारियों की नौकरी