ताज़ा खबर
 

बाज़ार में मौके की वजह से कामयाब रहेंगी ई-कामर्स कंपनियां: नंदन नीलेकणि

इस समय देश में ई-कामर्स कारोबार करीब 10 से 15 अरब डॉलर का है जो अगले चार-पांच साल में बढ़कर 60 से 100 अरब डॉलर हो जाएगा।

Author हैदराबाद | September 30, 2016 4:47 PM
नंदन नीलेकणि यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) के पहले चेयरमैन रहे थे। (फाइल फोटो)

इन्फोसिस के सह-संस्थापक नंदन नीलेकणि का मानना है कि बाजार में मौजूद व्यापक अवसरों की वजह से देश में ई-कॉमर्स कंपनियां सफल रहेंगी। उन्होंने कहा कि आगामी दिवाली त्योहारी मौसम यह संकेत देगा कि ई-कामर्स क्षेत्र किस दिशा में बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि बेहतर तरीके से नकदी प्रबंधन तथा ग्राहक अनुभव में सुधार से भी ई-कॉमर्स क्षेत्र की स्थिति बेहतर रहेगी। भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) के पूर्व प्रमुख नीलेकणि ने कहा, ‘ई-कॉमर्स कारोबार अपने परिचालन को लेकर अधिक अनुशासित हो रहा है। वे कम नकदी खर्च कर रहे हैं और अपने ग्राहक अनुभव का विस्तार कर रहे हैं। दिवाली त्योहार इस बात का बेहतर संकेत देगा कि यह बाजार किस दिशा में अग्रसर है।’

नीलेकणि ने कहा, ‘ये सभी कंपनियां बेहतर तरीके से वित्तपोषित हैं और इनके पास बाजार में टिके रहने के लिए पर्याप्त पूंजी है। ऐसे में उन्हें अपने मॉडल को अनुशासित करने के लिए पर्याप्त समय है। मुझे पूरा विश्वास है कि ये कंपनियां आगे भी बेहतर प्रदर्शन करती रहेंगी।’ नीलेकणि ने कहा इस समय देश में ई-कामर्स कारोबार करीब 10 से 15 अरब डॉलर का है जो अगले चार-पांच साल में बढ़कर 60 से 100 अरब डॉलर हो जाएगा। उन्होंने कहा कि ऐसे में ई-कॉमर्स कंपनियों का सफल होना तय है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App