ताज़ा खबर
 

सेंसेक्स 130 अंक टूटकर 28,032.85 पर बंद

भारतीय शेयर बाजार आज नयी ऊंचाई छूने के बाद कारोबार के अंतिम घंटे में चले बिकवाली के दौर से नीचे आ गए। बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स अपने नए सर्वकालिक उच्च स्तर 28,294.01 अंक को छूने के बाद मुनाफावसूली व कमजोर वैश्विक रुख से 130 अंक टूटकर 28,032.85 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज […]

Author November 19, 2014 6:20 PM
नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी-50 भी 10.10 अंक अथवा 0.12 फीसद बढ़कर 8,334.10 अंक पर पहुंच गया।

भारतीय शेयर बाजार आज नयी ऊंचाई छूने के बाद कारोबार के अंतिम घंटे में चले बिकवाली के दौर से नीचे आ गए। बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स अपने नए सर्वकालिक उच्च स्तर 28,294.01 अंक को छूने के बाद मुनाफावसूली व कमजोर वैश्विक रुख से 130 अंक टूटकर 28,032.85 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 44 अंक के नुकसान से 8,400 अंक से नीचे आ गया।

कारोबार के दौरान जहां सेंसेक्स ने 28,294.01 अंक के नए रिकॉर्ड को छुआ, वहीं निफ्टी 8,455.65 अंक की रिकॉर्ड ऊंचाई तक गया। यह लगातार दूसरा दिन है जबकि बाजार गिरावट के साथ बंद हुए। रुपए में भी गिरावट का रुख दिखाई दिया।

बंबई शेयर बाजार के सेंसेक्स ने शुरुआती कारोबार में नयी ऊंचाई कायम की। इस रिकॉर्ड स्तर पर विदेशी कोषों की ओर से बिकवाली बढ़ गयी जिससे यह नीचे आ गया। कारोबार के दौरान यह एक समय 27,963.51 अंक तक आ गया था।

अंत में सेंसेक्स 130.44 अंक या 0.46 प्रतिशत के नुकसान से 28,032.85 अंक पर बंद हुआ। कल यह 14.59 अंक के नुकसान के साथ बंद हुआ।
इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 8,455.65 अंक के नए रिकॉर्ड को छूने के बाद अंत में 43.60 अंक या 0.52 प्रतिशत के नुकसान से 8,382.30 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 8,360.50 अंक के निचले स्तर तक गया। कल निफ्टी 4.85 अंक टूटा था।

बोनान्जा पोर्टफोलियो के वरिष्ठ उपाध्यक्ष राकेश गोयल ने कहा कि बाजार ज्यादातर समय सीमित दायरे में रहा। अंतिम 90 मिनट में स्थिति में संशोधन हुआ।

टाटा मोटर्स, रिलायंस इंडस्ट्रीज, ओएनजीसी, सनफार्मा, एचडीएफसी बैंक, टाटा स्टील, एसबीआई, सेसा स्टरलाइट, महिंद्रा एंड महिंद्रा, एनटीपीसी, भेल व कोल इंडिया की वजह से बाजार दबाव में रहा। वहीं एचडीएफसी, डॉ रेड्डीज लैब, एलएंडटी, हिंद यूनिलीवर, बजाज ऑटो व भारती एयरटेल ने गिरावट को कुछ थामने में मदद की। खुदरा निवेशकों की बिकवाली से मिड कैप व स्मॉल कैप में भी गिरावट आई।

इस बीच, अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने कल शुद्ध रूप से 101.98 करोड़ रुपए के शेयर बेचे। एशियाई बाजारों में मिलाजुला रुख रहा। चीन, हांगकांग, जापान व दक्षिण कोरिया में गिरावट आई, जबकि सिंगापुर व ताइवान में लाभ रहा। शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार ऊपर चल रहे थे।

वेरासिटी ब्रोकिंग सर्विसेज के अनुसंधान प्रमुख जिग्नेश चौधरी ने कहा, ‘‘भारतीय बाजार सकारात्मक रुख के साथ खुले, लेकिन दिन आगे बढ़ने के साथ इनमें गिरावट आई।’’

सेंसेक्स के 30 शेयरों में 22 में नुकसान रहा। जबकि आठ लाभ के साथ बंद हुए। सेंसेक्स की कंपनियों में टाटा स्टील 3.08 प्रतिशत, सेसा स्टरलाइट 2.75 प्रतिशत, गेल इंडिया 2.30 प्रतिशत, टाटा मोटर्स 2.29 प्रतिशत, भेल 1.99 प्रतिशत, एनटीपीसी 1.94 प्रतिशत व सनफार्मा 1.77 प्रतिशत के नुकसान में रहे। ओएनजीसी, कोल इंडिया, सिप्ला, महिंद्रा एंड महिंद्रा और रिलायंस इंडस्ट्रीज में भी गिरावट आई।

वहीं डॉ रेड्डीज लैब 2.45 प्रतिशत चढ़ गया। हिंद यूनिलीवर में 1.19 प्रतिशत, एचडीएफसी में 1.01 प्रतिशत, बजाज ऑटो में 1.01 प्रतिशत और भारती एयरटेल में 0.89 प्रतिशत का लाभ रहा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App