ताज़ा खबर
 

दुनिया में सबसे अच्छी जलेबी यहां मिलती हैं, भारत के इस शहर की आनंद महिंद्रा ने की जमकर तारीफ

सोशल मीडिया पर खासे ऐक्टिव रहने वाले आनंद महिंद्रा अकसर अपने ही अंदाज में ट्वीट करते हैं। हाल ही में केंद्र सरकार की ओर से 10 औद्योगिक सेक्टर्स के लिए प्रोडक्शन लिंक्ड इन्सेंटिव स्कीम लॉन्च किए जाने का भी आनंद महिंद्रा ने स्वागत किया है।

anand mahindra , social media,महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा। (फाइल फोटो)

सोशल मीडिया पर अपने अलग अंदाज वाली पोस्ट्स के लिए चर्चित महिंद्रा ऐंड महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने अमृतसर की जलेबियों की तारीफ की है। ट्विटर पर अमृतसर की सराहना करते हुए आनंद महिंद्रा ने लिखा, ‘मुझे दोबारा अमृतसर आने के लिए कहने की जरूरत नहीं है। यह एक वाइब्रेंट शहर है। अमृतसर परंपरा के साथ ही बदलाव का भी शहर है। धार्मिक महत्व के लिहाज से यहां की यात्रा अहम है। मैंने पहले भी एक बार ट्वीट किया था कि दुनिया की सबसे अच्छी जलेबियां यहां मिलती हैं।’ दरअसल इन्वेस्ट पंजाब की ओर से एक ट्वीट कर उनसे अमृतसर आने के लिए आग्रह किया था।

आनंद महिंद्रा ने इन्वेस्ट पंजाब के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए ही यह बात लिखी है। आनंद महिंद्रा को आमंत्रण देते हुए इन्वेस्ट पंजाब ने ट्वीट किया था, ‘हम आनंद महिंद्रा से एक बार फिर अमृतसर आने का आग्रह करते हैं। अपने सांस्कृतिक रंग और विरासत को साथ लेकर चलते हुए यह शहर काफी आधुनिक भी हुआ है। आप जैसे प्रगतिशील उद्योगपति को अमृतसर एवं पंजाब में कई शानदार आइडिया पर काम करने का मौका मिलेगा।’ दरअसल इन्वेस्ट पंजाब ने अपने इस ट्वीट से आनंद महिंद्रा को एक तरह से राज्य में निवेश के लिए आमंत्रित किया था। इस पर आनंद महिंद्रा ने जवाब देते हुए कहा कि अमृतसर की जलेबियां उन्हें बेहद पसंद हैं।

बता दें सोशल मीडिया पर खासे ऐक्टिव रहने वाले आनंद महिंद्रा अकसर अपने ही अंदाज में ट्वीट करते हैं। हाल ही में केंद्र सरकार की ओर से 10 औद्योगिक सेक्टर्स के लिए प्रोडक्शन लिंक्ड इन्सेंटिव स्कीम लॉन्च किए जाने का भी आनंद महिंद्रा ने स्वागत किया है। उन्होंने एक बाद एक कई ट्वीट कर केंद्र सरकार के इस फैसले को बदलाव के लिए अहम करार दिया है। गौरतलब है कि अकसर आनंद महिंद्रा ट्वीट कर महिंद्रा की कारों को लेकर किए जाने वाले प्रयोगों की सराहना करते रहे हैं।

उन्होंने लिखा कि मैंने अपने करियर की शुरुआत उस दौर में की थी, जब देश में लाइसेंस राज था। तब ग्रोथ और स्केल के मामले में कभी विचार नहीं किया जाता था। लेकिन अब इस पॉलिसी से इसको अहमियत मिलेगी और वैश्विक कारोबारी माहौल में भारतीय उद्योग प्रतिस्पर्धी हो सकेंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 नहीं मिल पा रहीं सवारी, IRCTC ने बंद किया तेजस एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन, जानें- कब तक के लिए फैसला
2 प्रधानमंत्री जन धन योजना के खाते पर ओवरड्राफ्ट, बीमा समेत मिलती हैं ये सुविधाएं, आज ही खुलवाएं
3 Innova Crysta का नया वर्जन जल्द होने वाला है लॉन्च, सिक्योरिटी में जानदार और लुक में होगी शानदार, जानें- फीचर्स और कीमत
यह पढ़ा क्या?
X