ताज़ा खबर
 

Ujjwala Yojna beneficiaries: उत्तराखंड में उज्ज्वला स्कीम के 99 फीसदी लाभार्थियों ने नहीं लिया दूसरा सिलेंडर

Ujjwala Yojna beneficiaries: वंदना देवी ने बताया, 'सिलेंडर की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं। अब दाम 900 रुपये के करीब हैं। हमारे पास इतने पैसे नहीं होते कि सिलेंडर भरवा सकें। सरकार को इस इजाफे को वापस लेना चाहिए।'

LPG cylindersमहंगी कीमतों के चलते दोबारा सिलेंडर लेने में उत्साह नहीं दिखा रहे उज्ज्वला के लाभार्थी

Ujjwala Yojna beneficiaries:  केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की ओर से देश के गरीब परिवारों को मुफ्त एलपीजी कनेक्शन देने की उज्ज्वला स्कीम को लेकर उत्तराखंड में उत्साह देखने को नहीं मिल रहा है। सूबे में इस स्कीम के लाभार्थियों में से 99 फीसदी लोगों ने दोबारा सिलेंडर नहीं भरवाया। पहाड़ी राज्य के 13 जिलों में से कुल 3.72 लाख परिवारों को उज्ज्वला स्कीम के तहत मुफ्त एलपीजी कनेक्शन दिए गए हैं। लेकिन इनमें से महज 3,500 परिवार ही ऐसे रहे हैं, जिन्होंने दोबारा सिलेंडर भरवाया।

इस पर प्रतिक्रिया देते हुए राज्य के कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि महिलाओं को एलपीजी कनेक्शन देने का यह मकसद रहा है कि उनका जीवन आसान बन सके। हम इस उद्देश्य को पूरा करने के लिए तत्पर हैं। दरअसल इसकी वजह एलपीजी सिलेंडरों की कीमतों में बड़ा इजाफा होना है। इसके चलते उज्ज्वला स्कीम के लाभार्थियों को भी सिलेंडर की खरीद के वक्त ज्यादा रकम देनी होती है। इसके बाद सब्सिडी वाली रकम बैंक खाते में आती है। मौके पर ज्यादा रकम चुकाने में सक्षम न होने के चलते ऐसी स्थिति पैदा हो रही है।

इन वजहों के चलते सिलेंडर नहीं ले रहे लाभार्थी: इसके अलावा ग्रामीण इलाकों में गैस एजेंसियों की कमी, पहाड़ी इलाकों में घर तक डिलिवरी की व्यवस्था न होने जैसी समस्याएं भी हैं। भारत के वन सर्वे के मुताबिक दिसंबर 2019 में उत्तराखंड के लोग अब भी हर साल 4,076 टन लड़की का इस्तेमाल कुकिंग समेत तमाम कामों के लिए जलाने में करते हैं। सिलेंडर न लेने का कारण बताते हुए टिहरी जिले में रहने वाली उज्ज्वला स्कीम की लाभार्थी वंदना देवी ने बताया, ‘सिलेंडर की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं। अब दाम 900 रुपये के करीब हैं। हमारे पास इतने पैसे नहीं होते कि सिलेंडर भरवा सकें। सरकार को इस इजाफे को वापस लेना चाहिए।’

एक सप्ताह पहले 144 रुपये बढ़ी थी LPG की कीमत: बता दें कि पिछले ही सप्ताह गैर-सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडरों की कीमत में 144.5 रुपये का इजाफा हुआ था। इसके साथ ही सरकार की ओर से सब्सिडी में भी बढ़ोतरी की गई है। सब्सिडी लेने वाले आम उपभोक्ताओं को अब 153.86 रुपये की बजाय 291.48 रुपये की छूट मिल रही है।

100 फीसदी एलपीजी कवरेज वाला पहला राज्य बना हिमाचल: एक तरफ उत्तराखंड में उज्ज्वला स्कीम बहुत कामयाब होती नहीं दिख रही है, वहीं पड़ोसी राज्य हिमाचल 100 फीसदी एलपीजी कवरेज वाला देश का पहला स्टेट बन गया है। राज्य में हर घर तक एलपीजी की सुविधा पहुंचाने के लिए केंद्र की उज्ज्वला स्कीम के अलावा सूबे की जयराम ठाकुर सरकार ने 2018 में हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना लॉन्च की थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Donald Trump’s India visit: राष्ट्रपति बनने से पहले भी भारत आए हैं डोनाल्ड ट्रंप, मुंबई से गुड़गांव तक ट्रंप टावर बना किया है निवेश
2 PM Vaya Vandana Yojana benefits: बंद होने वाली है पीएम वय वंदना योजना, जानें, हर महीने पेंशन वाली इस स्कीम में कैसे कर सकते हैं निवेश
3 Provident Fund balance withdrawal: जल्द UAN से लिंक कराएं Aadhar Card, रिटायरमेंट के दिन ही मिलेगा पूरा PF, पेंशन भी हो जाएगी तुरंत चालू
अयोध्या से LIVE
X