ताज़ा खबर
 

Reliance Jio: कम दरें अच्छी बात, पर सेवा की गुणवत्ता सुधारने की जरूरत : सर्वे

रिलायंस जियो की बाजार में खलबली मचाने की आक्रामक योजना के मद्देनजर दूरसंचार ऑपरेटरों के बीच जल्द दरों को लेकर ‘युद्ध’ छिड़ सकता है।

Author नई दिल्ली | September 3, 2016 12:01 AM
जियो लॉन्च करते मुकेश अंबानी।

रिलायंस जियो की बाजार में खलबली मचाने की आक्रामक योजना के मद्देनजर दूरसंचार ऑपरेटरों के बीच जल्द दरों को लेकर ‘युद्ध’ छिड़ सकता है। एक सर्वेक्षण में हालांकि आम लोगों ने कहा है कि दरों का कम रहना अच्छी बात है, लेकिन ऑपरेटरों को सेवाओं की गुणवत्ता सुधारने की जरूरत है।

नागरिक जुड़ाव मंच लोकलसर्किल्स के सर्वेक्षण में 43 प्रतिशत लोगों ने मौजूदा ऑपरेटरों की डेटा सेवाओं को खराब करार दिया। वहीं 27 प्रतिशत का कहना था कि इन ऑपरेटरों की वॉयस सेवाओं की गुणवत्ता अच्छी नहीं है। कॉल ड्रॉप के मामले में 53 प्रतिशत नागरिकों ने अपने ऑपरेटर को औसत बताया। यह सर्वेक्षण ग्राहकों को उनके ऑपरेटरों से सेवाओं की गुणवत्ता को लेकर अपेक्षा पर आधारित है।

करीब 77 प्रतिशत लोगों ने कहा कि भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने पिछले कुछ बरस में चीजों को ठीक करने के लिए अधिक कुछ नहीं किया है। सर्वे में कहा गया है कि भारत में कॉल दरें दुनिया में सबसे कम में से हैं। हालांकि, डाउनलोडिंग का आकर्षण रखने वाले 53 प्रतिशत नागरिकों का मानना है कि दूरसंचार दरें महंगी हैं। सर्वे में कहा गया है कि सरकार के ऑपरेटरों को नेटवर्क कवरेज में सुधार के निर्देश के बावजूद भी काफी संख्या में कंपनियों ने ढांचे में सुधार के लिए पर्याप्त निवेश नहीं किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App