ताज़ा खबर
 

लॉकडाउन खोलने के इस तरीके पर चल रहा सबसे ज्यादा विचार, जानें- इंडस्ट्री चालू करने को लेकर है क्या प्लान

सरकारी सूत्रों के मुताबिक ग्रीन जोन उन इलाकों को माना जाएगा, जहां कोरोना के बेहद कम मामले हैं और बीते एक सप्ताह में कोई केस न आया हो। यहां ज्यादातर आर्थिक गतिविधियों को दोबारा चालू करने का प्रस्ताव है।

जानें, लॉकडाउन खोलने के लिए क्या प्लान हो रहा तैयार

कोरोना के खतरे से बचने के लिए लागू 21 दिनों के लॉकडाउन की मियाद 14 अप्रैल को समाप्त हो रही है। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि इसके बाद लॉकडाउन खत्म होगा या फिर जारी रहेगा, लेकिन इस बीच सरकार ने कोरोना संक्रमण से कम प्रभावित इलाकों में बंदिशों को कम करने पर विचार करना शुरू किया है। इसके लिए सरकार ने 11 कमेटियों को सुझाव देने का काम सौंपा है।

सोमवार को गृह सचिव अजय भल्ला ने इस संबंध में बैठक भी की थी, जिसमें उनके सामने लॉकडाउन खोलने को लेकर तीन प्रजेंटेशन दी गई थीं। इस मीटिंग में हर किसी ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को फिलहाल के लिए निलंबित रखने पर ही सहमति जताई है। इस दौरान जो सबसे अहम प्रस्ताव पेश किया गया है और जिस पर प्रमुखता से विचार रहा है, वह है देश को तीन हिस्सों में विभाजित करते हुए लॉकडाउन पर फैसला लेना। आइए जानते हैं, क्या है लॉकडाउन को खोलने का यह प्लान…

प्रस्ताव है कि देश को कोरोना प्रभावित इलाकों के लिहाज से तीन जोन में बांट दिया जाए। ये हैं- ग्रीन जोन, येलो जोन और रे़ड जोन। सरकारी सूत्रों के मुताबिक ग्रीन जोन उन इलाकों को माना जाएगा, जहां कोरोना के बेहद कम मामले हैं और बीते एक सप्ताह में कोई केस न आया हो। यहां ज्यादातर आर्थिक गतिविधियों को दोबारा चालू करने का प्रस्ताव है। हालांकि दिल्ली-एनसीआर, मुंबई जैसे औद्योगिक इलाकों की बात करें तो यहां ऐसा मुश्किल ही लगता है क्योंकि मामले सामने आने की रफ्तार घटने की बजाय बढ़ती ही नजर आ रही है।

इसके अलावा कुछ इलाकों येलो जोन में रखने पर विचार चल रहा है। यहां छोटे स्तर पर उत्पादन शुरू करने पर विचार किया जा रहा है। इसके अलावा एक लिस्ट ऐसे इलाकों की तैयार की जा रही है, जो कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित हैं। इन इलाकों को रेड जोन में रखा जाएगा। ऐसे इलाकों में मौजूदा स्थिति को ही बहाल रखते हुए लंबे समय तक लॉकडाउन पर विचार किया जा सकता है।

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: जानें-कोरोना वायरस से जुड़ी हर खबर । जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस? । इन वेबसाइट और ऐप्स से पाएं कोरोना वायरस के सटीक आंकड़ों की जानकारी, दुनिया और भारत के हर राज्य की मिलेगी डिटेल ।  कोरोना संक्रमण के बीच सुर्खियों में आए तबलीगी जमात और मरकज की कैसे हुई शुरुआत, जान‍िए

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के कर्मचारियों को मिलेगा एक लाख रुपये का ब्याज मुक्त लोन, कोरोना संकट में नौकरी के लिए प्रोत्साहन
2 कोरोना के संकट से निपटने के लिए ममता बनर्जी के सलाहकार होंगे नोबेल विजेता अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी
3 बिना राशन कार्ड मिलता नहीं अनाज, हजारों लोगों के सामने भूखों मरने की नौबत, 5 साल से अपडेट नहीं हुआ खाद्यान्न योजना के लाभार्थियों का डेटा