scorecardresearch

LIC ने निवेशकों को किया कंगाल, डुबो दिए 1 लाख करोड़ रुपए; हर दिन हुआ 5000 करोड़ का नुकसान

सोमवार को बाजार के शुरू होते ही एलआईसी के निवेशकों को जोरदार झटका लगा। 2.47% की गिरावट के साथ इसके प्रति शेयर की कीमत 800 रुपए से नीचे जा चुकी है

LIC Share price | LIC News | LIC IPO
LIC के शेयरों की कीमत 800 रुपए से नीचे आ चुकी है। (फोटो-Express Archive)

देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) का आईपीओ आने के बाद निवेशकों को बड़ी आमदनी की उम्‍मीद थी, लेकिन इसके शेयरों में तेजी से गिरावट ने निवेशकों का खूब नुकसान कराया है। करीब 20 दिनों के दौरान भारतीय जीवन बीमा निगम ने निवेशकों के 1 लाख 10 हजार करोड़ रुपए डुबो दिए। यानी कि निवेशकों को हर दिन 5,000 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।

सोमवार को बाजार के शुरू होते ही एलआईसी के निवेशकों को जोरदार झटका लगा। 2.47% की गिरावट के साथ इसके प्रति शेयर की कीमत 800 रुपए से नीचे जा चुकी है, इसके प्रति शेयर का प्राइज अब तक के सबसे निचले स्‍तर 780.45 रुपए पर चला गया है। शुरूआत में यह 786.05 रुपये स्तर पर था। इसके आईपीओ निर्गम मूल्य 949 रुपये से, कीमतें 17 प्रतिशत से अधिक की गिरावट हुई है।

5 लाख रुपए से नीचे गिरा मार्केट कैप
शेयर की कीमतों में गिरावट के साथ ही कंपनी का मार्केट कैप भी 5 लाख करोड़ रुपए से नीचे गिरकर करीब 4.98 लाख करोड़ रुपए पर आ चुका है। यह अब देश की सातवीं सबसे मूल्यवान कंपनी है। गौरतलब है कि एलआईसी के शेयर 17 मई को लिस्‍ट किए गए थे, और तब से केवल चार सत्र हुए हैं जब स्टॉक लाभ के साथ बंद हुआ है। बाकी दिनों में यह बिकवाली के दबाव में टूटा है।

अभी तेजी आने की संभावना नहीं
कुछ विशेषज्ञों का मानना है कि इसमें आने वाले दिनों में बढ़ोतरी हो सकती है, लेकिन इसके शेयर प्राइज में तेज गति से बढ़ोतरी होने की उम्‍मीद कम है। वहीं विशेषज्ञों का मानना है कि इसके शेयरों में अभी उछाल होने की संभावना कम है।

17 विशलेषकों ने दी थी रेटिंग
बता दें कि एलआईसी के दाम में कटौती करके इसे धूमधाम से पेश किया गया था। कम से कम 17 विश्लेषकों ने सब्सक्राइब रेटिंग दी थी और उन्हें काफी उम्मीदें थीं। एमके ने ‘होल्ड’ रेटिंग दी और स्टॉक पर 875 रुपये का लक्ष्य मूल्य निर्धारित किया।

पढें व्यापार (Business News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट