ताज़ा खबर
 

Jawa 42 और Jawa perak: धमाकेदार बाइक्स के फीचर ही नहीं, जानें अनोखे नाम की भी कहानी

जावा बाइक के आने से भारत में पॉवरफुल बाइक के फील्ड में कड़ी प्रतिस्पर्धा होने की उम्मीद जतायी जा रही है। बता दें कि जावा बाइक्स के नाम के साथ भी एक इतिहास जुड़ा हुआ है।

जावा बाइक्स के नाम का भी एक इतिहास रहा है।

भारत का मोटरसाइकिल बाजार इन दिनों रेट्रो और पॉवरफुल बाइक्स के दौर की तरफ मुड़ता नजर आ रहा है। जिस तरह से रॉयल एनफील्ड की भारतीय बाजार में लोकप्रियता बढ़ी है, वहीं अब उसे प्रतिस्पर्धा देने के लिए 60-70 के दशक की मशहूर JAWA बाइक ने भी भारतीय बाजार में धमाकेदार दस्तक दे दी है। अब रेट्रो और पॉवरफुल बाइक के क्षेत्र में रॉयल एनफील्ड और जावा बाइक्स के बीच कड़ी प्रतिस्पर्धा होने की उम्मीद की जा रही है। हालांकि दोनों कंपनियों के बीच प्रतिस्पर्धा पुरानी है, लेकिन जावा के भारत से जाने के बाद भारतीय बाजार में रॉयल एनफील्ड का एकतरफा दबदबा कायम हो गया था। अब महिंद्रा ग्रुप ने जावा बाइक का प्रोडक्शन करने का लाइसेंस हासिल कर JAWA, JAWA 42 और JAWA Perak पेरेक के साथ दमदार एंट्री की है।

JAWA बाइक्स का इतिहासः Jawa बाइक्स के फाउंडर चेक रिपब्लिक के फ्रैंसिक जैनेसक थे। मैकेनिक्स के ग्रेजुएट जैनेसक ने 1929 में जर्मन मैन्युफैक्चरर कंपनी Wanderer को खरीद लिया और फिर इस कंपनी में बाइकों का निर्माण शुरु किया। फ्रैंसिक ने अपने उपनाम Janicek और कंपनी के नाम Wanderer के शुरुआती दो-दो शब्दों को जोड़कर बाइक का नाम JAWA रखा। 1960 के दशक में ये बाइक पूरे विश्व में धूम मचाने के बाद भारत पहुंची। जहां मैसूर में इसकी पहली फैक्ट्री स्थापित की गई। 60-70 के दशक में कंपनी ने Yezdi के नाम से बाइकें भारत में बेंची। हालांकि साल 1996 में भारत में घाटे के चलते Yezdi का निर्माण बंद कर दिया।

अब बीते माह एक बार फिर जावा बाइक्स में भारत में लॉन्च की गई हैं। जिनमें से जावा बाइक को थोड़े-बहुत बदलाव के साथ ही पारंपरिक लुक और डिजाइन में ही लॉन्च किया गया है। इस बाइक में 250सीसी का इंजन दिया गया है। यह बाइक फिलहाल बिक्री के लिए उपलब्ध है। वहीं दूसरी तरफ जावा पेराक एक कस्टम बेस्ड बाइक है, जिसे एक पॉवरफुल और आकर्षक लुक दिया गया है। 300सीसी की यह बाइक भी कंपनी की एक पुरानी बाइक Jawa 250 Perak Bobber का ही नया रुप है। बता दें कि Perak नाम भी चेक रिपब्लिक के एक एंटी-फासिस्ट हीरो पेराक के नाम से ही प्रेरित है।

जावा 42 की बात करें तो इसका नाम भी एक मशहूर किताब Hitchhikers guide to the galaxy की एक कहानी से लिया गया है। ताकत की बात करें तो इस बाइक को 300 सीसी के पेट्रोल इंजन से लैस किया गया है और लुक्स के मामले में इसे बेहतरीन बनाया गया है। खासकर कलर वैरिएंट के मामले में भी यह बाइक काफी पसंद की जा सकती है। बता दें कि जावा और जावा 42 बिक्री के लिए उपलब्ध हैं। वहीं जावा पेराक के अगले साल फरवरी तक भारत में लॉन्च होने की उम्मीद है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App