ताज़ा खबर
 

जैक मा पर चीन सरकार का शिकंजा, मार्च में गौतम अडानी ने दी थी शिकस्त

अलीबाबा ग्रुप पर चीन के नियामकों ने प्रतिस्पर्धा रोधी व्यवहार के लिए 18.3 अरब युआन (2.8 अरब डॉलर) का जुर्माना लगाया है।

Jack Ma, Gautam adani, chinaजैक मा, गौतम अडानी (Photo-Indian Express )

अलीबाबा ग्रुप के फाउंडर जैक मा पर चीन सरकार का शिकंजा बढ़ता जा रहा है। इस वजह से जैक मा की दौलत भी कम हो रही है। हाल ही में भारत के गौतम अडानी ने दौलत के मामले में जैक मा को पछाड़ दिया है।

क्या है मामला: दरअसल, अलीबाबा ग्रुप पर चीन के नियामकों ने प्रतिस्पर्धा रोधी व्यवहार के लिए 18.3 अरब युआन (2.8 अरब डॉलर) का जुर्माना लगाया है। यह जुर्माना 2019 में कंपनी की कुल 455.71 अरब युआन या 69.5 अरब डॉलर की बिक्री के चार प्रतिशत के बराबर है। सरकार की ओर से कहा गया है कि अलीबाबा पर अपनी दबदबे की स्थिति का लाभ उठाने के लिए यह जुर्माना लगाया गया है। अलीबाबा ने उसके मंच का इस्तेमाल करने वाले रिटेलर्स के बीच प्रतिस्पर्धा को सीमित किया और वस्तुओं की मुक्त आपूर्ति में अड़चन पैदा की।

आपको बता दें कि चीन में सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी तेजी से बढ़ते टेक वेंचर्स पर अपना नियंत्रण बढ़ा रही है। पार्टी नेता अलीबाबा सहित चीन की बड़ी इंटरनेट कंपनियों के बढ़ते दबदबे से चिंतित हैं। इन नेताओं का मानना है कि जब उद्योग वित्त, स्वास्थ्य सेवा और अन्य संवेदनशील क्षेत्रों में विस्तार कर रहा है, इंटरनेट कंपनियों का बढ़ता दबदबा चिंता की बात है। (ये पढ़ें—मित्तल और अंबानी की कंपनी के बीच हुई डील!)

अडानी से पिछड़ चुके हैं जैक मा: हाल ही में भारत के अरबपति गौतम अडानी ने दौलत के मामले में जैक मा को पछाड़ दिया है। एक साल पहले तक एशिया के सबसे बड़े अरबपति के तौर पर शुमार जैक मा की दौलत अब लुढ़क​ कर 50 बिलियन डॉलर से नीचे आ गई है। वहीं, रैंकिंग में वह 25वें स्थान पर हैं। अगर गौतम अडानी की बात करें तो वह 57 बिलियन डॉलर की संपत्ति के साथ दुनिया के 22वें सबसे अमीर शख्स बने हुए हैं।

गौतम अडानी हाल ही में टॉप 20 अरबपतियों के क्लब में भी शामिल हुए थे लेकिन दौलत कम होने की वजह से वह एक बार फिर अपनी पुरानी रैंकिंग पर आ गए हैं। आपको बता दें कि एक माह पहले तक दौलत के मामले में गौतम अडानी, जैक मा से पीछे थे।

जैक मा और चीन सरकार के बीच चल रहा विवाद: लंबे समय से जैक मा और चीन सरकार के बीच विवाद चल रहा है। अक्टूबर 2020 में जैक मा ने चीन के राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग की सार्वजनिक तौर पर आलोचना की थी। इसके बाद से ही जैक मा रहस्यमयी तरीके से गायब हो गए थे। मीडिया में जब खबरें आईं तो करीब तीन महीने बाद वह जनवरी में नजर आए।

इस दौरान चीन की सरकार ने अलीबाबा ग्रुप के खिलाफ एकाधिकार-रोधी जांच शुरू करने की घोषणा की कर दी।इसके अलावा चीनी अधिकारियों ने जैक को जोरदार झटका देते हुए उनके एंट ग्रुप के 37 अरब डॉलर के IPO को निलंबित कर दिया था। (ये पढ़ें—अनिल अंबानी का कारोबार चला रहे अडानी)

Next Stories
1 कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच इस अरबपति की कंपनी को फायदा, मुकेश अंबानी को दी थी टक्कर
2 रुचि सोया के लिए रामदेव ने लिया था 3200 करोड़ का लोन, अब मुनाफे में है कंपनी
3 जिस कंपनी से अनिल अंबानी ने लड़ी थी कानूनी जंग, उससे TCS ने की ये डील
यह पढ़ा क्या?
X