ताज़ा खबर
 

अनलॉक के पहले दिन आईआरसीटीसी की बड़ी छलांग, निवेशकों को किया मालामाल

आज आईआरसीटीसी के शेयरों में अच्‍छी तेजी देखने को मिली है। कंपनी के शेयरों में 10 फीसदी का अपर सर्किट लगा है। जिसकी वजह से कंपनी का शेयर कारोबारी स्‍तर के दौरान 52 हफ्तों की ऊंचाई पर चला गया।

अनलॉक के पह+*-ले दिन आईआरसीटीसी के शेयर 9 फीसदी से ज्‍यादा की तेजी के साथ बंद हुए हैं।

कोरोना काल में कई सेक्‍टर्स में काफी बुरा असर देखने को मिला है। जिसमें ट्रेवल और टूरिज्‍म सेक्‍टर भी शामिल है। जिनके शेयरों में भी काफी गिरावट देखने को मिली है। जिनमें आईआरसीटीसी का भी शेयर शामिल है। अबृ देश में कोरोना की दूसरी लहर के बाद लगाए गए लॉकडाउन के बाद राज्‍यों ने अनलॉक करना शुरू कर दिया है। अनलॉक के पहले दिन शेयर बाजार ने तो नई ऊंचाई छुई ही है, दूसरी ओर गिरते सेक्‍टर्स की कंपनियों में आज तेजी देखने को मिली है। कई राज्‍यों की ओर रेल सेवा शुरू करने के आदेश के बाद आईआरसीटीसी का शेयर 9 फीसदी की तेजी के साथ बंद हुआ है।

आईआरसीटीसी का शेयर आज 9.18 फीसदी की तेजी यानी 176.40 रुपए की तेजी के साथ 2098.60 रुपए पर बंद हुआ। जबक‍ि कारोबारी दिन के दौरान कंपनी का शेयर 2114.40 रुपए के साथ 52 हफ्तों की नई ऊंचाई पर पहुंच गया। आंकड़ों के अनुसार आज कंपनी का शेयर 1925.45 रुपए पर खुला था, यही दिन का निचला स्‍तर भी था। बीते शुक्रवार को कंपनी का शेयर 1922.20 रुपए पर बंद हुआ था।

क्‍यों आई तेजी : जानकारी के अनुासार रेल मंत्रालय की ओर से दो दर्जन से ज्‍यादा स्‍पेशल ट्रेनों एक बार फिर से संचालित करने की घोषणा की है। वहीं दूसरी ओर देश के कई राज्‍यों की ओर से अनलॉक का भी ऐलान किया है। जिसके बाद कई राज्‍यों की ओर से ट्रेनों को संचालित करने का आदेश दिया है। वहीं दूसरी ओर जून में अब तक एयरलाइंस ट्रैफिक दोगुना इजाफा हो गया है। इंडियन रेलवे को भी इसी तर‍ह से यात्रियों के इजाफे की उम्‍मीद कर रहा है।

क्‍या कहते हैं जानकार : आईआरसीटीसी शेयर की कीमत में तेज वृद्धि के मजबूत कारणों पर बोलते हुए, प्रॉफिटमार्ट सिक्योरिटीज के अनुसंधान प्रमुख अविनाश गोरक्षकर ने कहा कि आईआरसीटीसी ऑनलाइन ट्रेन टिकट बुकिंग के कारोबार में एकाधिकार है, निवेशक आईआरसीटीसी के शेयरों में भारी पैसा लगा रहे हैं।गोरक्षकर ने कहा कि आईआरसीटीसी डिजिटल ट्रेन टिकट बुकिंग में 60-65 प्रतिशत प्रॉफिट मार्जिन पर काम करता है, जिसके जून तिमाही के परिणामों में भी देखने को मिल सकती है।

Next Stories
1 नोटबंदी बाद से लगातार गिर रही है जीडीपी, 40 साल पहले से ज्‍यादा खराब हुए हालात
2 कर्ज संकट से जूझ रही अनिल अंबानी की कंपनी, इस तरीके से जुटाएगी 550 करोड़ रुपये
3 घाटे में थी कंपनी, अब हो गया 97 करोड़ का मुनाफा, मुकेश अंबानी के समधी ने लगाया है दांव
ये पढ़ा क्या?
X