ताज़ा खबर
 

Indian Railways: माता मनसा देवी मंदिर के नजदीक रुकेंगी ट्रेनें!

यहां हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, चंडीगढ़ और दिल्ली के भक्तों के अलावा, मुंबई, मध्य प्रदेश और राजस्थान जैसे दूरदराज के इलाके में भी ऐतिहासिक मंदिर में भक्त आते हैं।

त्योहारी मौसम में चलेंगी स्पेसल ट्रेनें

माता मनसा देवी के मंदिर के पास ट्रेन रुकें, इसके लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने रेल मंत्री पीयूष गोयल से आग्रह किया है कि पंचकुला के पास श्री माता मनसा देवी मंदिर के पास एक स्टॉपेज पॉइंट बनाया जाए। इससे लाखों भक्तों को फायदा होगा। खट्टर ने इसके लिए मुफ्त भूमि समेत सभी सहायता प्रदान करने का आश्वासन दिया है। केंद्रीय मंत्री से लिखित में उन्होंने कहा कि ऐतिहासिक मंदिर का नेतृत्व राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री के नेतृत्व में किया जा रहा है। खट्टर ने कहा कि गोशाला क्षेत्र के पीछे मंदिर परिसर से एक रेलवे लाइन जा सकती है। खट्टर ने कहा कि रेलवे लाइन मंदिर से मुश्किल से 100 गज की दूरी पर है, श्री माता मानसा देवी मंदिर में एक छोटे रेलवे हॉल्ट स्टेशन की लंबे समय से मांग रही है। हॉल्ट स्टेशन लाखों भक्तों की जरूरत को पूरा करेगा।

उन्होंने कहा कि पास के हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, चंडीगढ़ और दिल्ली के भक्तों के अलावा, मुंबई, मध्य प्रदेश और राजस्थान जैसे दूरदराज के इलाके में भी ऐतिहासिक मंदिर में भक्त आते हैं। खट्टर ने कहा कि चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन यहां से करीब 6.5 किलोमीटर की दूरी पर है, वहीं चण्डी मंदिर हॉल्ट करीब 7.5 किलोमीटर है और कालका रेलवे स्टेशन 22 किलोमीटर की दूरी पर है। नवरात्र में दर्शन के लिए करीब 7 से 9 लाख तक लोग दर्शन के लिए आते हैं। इसके अलाव अन्य दिनों में भी बड़ी संख्या में भक्त यहां आते हैं।

आपको बता दें कि इंडियन रेलवे ने अब नई रेल लाइनों के निर्माण के लिए उसी मॉडल को अपना लिया है, जिस मॉडल पर देश भर में मेट्रो रेल लाइनों का निर्माण किया जाता है। इस मॉडल के तहत रेलवे अपनी ओर से सिर्फ छोटी पूंजी लगाएगी जबकि शेष रकम का इंतजाम राज्य सरकार और लोन लेकर करेगी। यह सारा कार्य रेलवे और राज्य सरकार की इक्विटी से बनी पब्लिक सेक्टर की कंपनी करेगी। इस मॉडल पर पहली कंपनी छत्तीसगढ़ सरकार के साथ बनाई गई है और इसका पहला प्रॉजेक्ट भी मंजूर कर लिया गया है। अभी इसी कतार में लगभग एक दर्जन और राज्य सरकारें भी हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App