ताज़ा खबर
 

IRCTC: तत्काल और प्रीमियम तत्काल में क्या है फर्क? रिजर्वेशन से पहले जानिए ये जरूरी बातें

तत्काल टिकट और प्रीमियम तत्काल में सबसे बड़ा अंतर पैसे के ही है। प्रीमियम तत्काल कोटे की सीटें कम होने के साथ इनकी कीमत बढ़ती जाती है।

प्रीमियम तत्काल कोटे की सीटें कम होने के साथ इनकी कीमत बढ़ती जाती है। (फोटो सोर्स : Indian Express)

त्योहारी सीजन में हर कोई कंफर्म टिकट के लिए जोर आजमाइश करता है। रेलवे पर भी आम दिनों की अपेक्षा बोझ बढ़ जाता है। पहले से मौजूद ट्रेनों में अतिरिक्त बोगी के साथ खास ट्रेनें चलाई जाती हैं। फिर भी कंफर्म टिकट मिलना मुश्किल रहता है। लेकिन भारतीय रेल आपको अपनी सीट पक्की करने का मौका देता है। इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन (आईआरसीटीसी) के जरिए आप यह मौका आसानी से भुना सकते हैं। इसके लिए तत्काल और प्रीमियम तत्काल की सर्विस मुहैया कराई गई है। हालांकि इसके लिए कुछ शर्तें भी हैं। इन शर्तों को पूरा करने के लिए इन्हें जानना जरूरी है।

बिना किसी प्लानिंग के निकलने वाले लोगों के लिए ही भारतीय रेलवे ने तत्काल व्यवस्था की शुरुआत की थी। सुविधा के अनुसार इसके लिए आपको आम टिकट से ज्यादा पैसे चुकाने होंगे। तत्काल टिकट यात्रा से एक दिन पहले ही बुक होते हैं।

एसी क्लास की बुकिंग सुबह 10 बजे शुरू होती है और स्लिपर में सफर करने के लिए तत्काल टिकट की बुकिंग ठीक 11 बजे शुरू होती है। तत्काल टिकट काउंटर के साथ साथ ऑनलाइन भी बुक होते हैं। वहीं प्रीमियम तत्काल टिकट करने के लिए आपको यही समय मिलेगा। लेकिन इसके लिए आपको तत्काल टिकट से ज्यादा कीमत चुकानी पड़ेगी। तत्काल टिकट और प्रीमियम तत्काल में सबसे बड़ा अंतर पैसे के ही है। प्रीमियम तत्काल कोटे की सीटें कम होने के साथ इनकी कीमत बढ़ती जाती है। इन टिकट पर भी तत्काल टिकट के ही नियम लागू होते हैं।

तत्काल के वेटिंग लिस्ट में टिकट पाने वाले लोग आरएसी में भी सफर करने को तैयार हो जाते हैं। लेकिन यह सुविधा प्रीमियम तत्काल में नहीं है। इस कोटे से बुक हुई सीटें कंफर्म ही होती हैं। इसमें एजेंट्स भी टिकट नहीं बुक कर सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App