दो साल में आईआरसीटीसी ने 10 हजार को बना दिया 1.70 लाख, अब इस सरकारी कंपनी से होगी तगड़ी कमाई

आईआरसीटीसी का शेयर अक्टूबर 2019 में स्टॉक मार्केट में लिस्ट हुआ था। तब से यह 1600 प्रतिशत से अधिक चढ़ चुका है। अब एलआईसी के आईपीओ से इंवेस्टर्स यही कहानी दोहराने की उम्मीद लगाए हुए हैं।

IRCTC Share Price
आईआरसीटीसी के शेयर बाजार में दो साल पूरे हो गए हैं। (Express Photo)

बीते सप्ताह आईआरसीटीसी (IRCTC) को शेयर बाजार में लिस्ट हुए दो साल पूरे हो गए। इस दौरान कंपनी के शेयर के भाव लगातार चढ़े। आईपीओ इश्यू के समय 10 हजार लगाने वाले इंवेस्टर्स के पैसे अब बढ़कर 1.70 लाख रुपये हो चुके हैं। बाजार को भारतीय जीवन बीमा निगम के आईपीओ (LIC IPO) से भी तगड़ी कमाई की उम्मीद है।

दो साल में 1600 प्रतिशत चढ़े IRCTC Share

आईआरसीटीसी के शेयर (IRCTC Share) 14 अक्टूबर 2019 को स्टॉक मार्केट में लिस्ट हुए थे। कंपनी ने लिस्ट होने के लिए जब आईपीओ पेश किया था, उसकी इश्यू प्राइस महज 320 रुपये थी। पिछले सप्ताह 15 अक्टूबर को जब बाजार बंद हुआ, तब कंपनी का शेयर 5,467.35 रुपये पर पहुंच चुका था। इस तरह इश्यू प्राइस से तुलना करें तो दो साल में कंपनी के शेयर 1600 प्रतिशत से अधिक चढ़ चुके हैं।

10 हजार लगाने वाले ने बना लिए 1.70 लाख

अक्टूबर 2019 में आईआरसीटीसी के आईपीओ (IRCTC IPO) में जिन लोगों ने 10 हजार रुपये लगाए होंगे, उनके शेयरों की कीमत अभी बढ़कर 1,70,843.75 रुपये हो चुकी है। कंपनी के आईपीओ की एक लॉट की कीमत 12,800 रुपये थी। इस तरह देखें तो दो साल पहले आईआरसीटीसी के शेयरों का एक लॉट खरीदने वाले इंवेस्टर्स के हिस्से की वैल्यू 2,18,680 रुपये हो चुकी है। बीएसई पर आईआरसीटीसी का एमकैप (IRCTC MCap) अभी 87,477.60 करोड़ रुपये पर पहुंच चुका है।

LIC IPO से इंवेस्टर्स को बड़ी उम्मीदें

अब निवेशकों को एलआईसी के आईपीओ (LIC IPO) से भी ऐसी ही तगड़ी कमाई की उम्मीद है। आपको बता दें कि सरकारी बीमा कंपनी का आईपीओ अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ साबित होने वाला है। सरकार इस आईपीओ से एलआईसी में अपनी 10 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचना चाह रही है। इस वित्त वर्ष के अंत तक यानी मार्च 2022 तक सरकार एलआईसी का आईपीओ पेश कर सकती है।

इसे भी पढ़ें: डीजल-पेट्रोल के आसमानी भाव से टाटा और महिंद्रा समेत इन कंपनियों को हो रहा डायरेक्ट फायदा

दुनिया का सबसे बड़ा आईपीओ बन सकता है LIC IPO

सरकार को एलआईसी का वैल्यूएशन (LIC Valuation) आठ हजार अरब रुपये से 10 हजार अरब रुपये के बीच रहने की उम्मीद है। हालांकि कुछ निजी विश्लेषक वैल्यूएशन 19 हजार अरब रुपये तक जाने का अनुमान व्यक्त कर रहे हैं। सरकारी अनुमान के आधार पर भी देखें तो महज पांच प्रतिशत शेयर का ऑफर इसे भारत के इतिहास का सबसे बड़ा आईपीओ बना देगा। चूंकि सरकार 10 प्रतिशत हिस्सेदारी बेच रही है, यह दुनिया भर में अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ बन सकता है। अभी यह रिकॉर्ड सऊदी अरामको (Saudi Aramco) के नाम है।

पढें व्यापार समाचार (Business News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
7th Pay Commission: सरकार ने इनके लिए पेंशन में की भारी बढ़ोत्तरी, जानें कितना फायदाsamudrik shastra, money, moles meaning, lucky moles, body moles, astrology
अपडेट