ताज़ा खबर
 

अब एक घंटा पहले ही दिल्‍ली से मुंबई पहुंच जाएगी राजधानी एक्‍सप्रेस! रेलवे ने घटाया समय

वर्तमान में ट्रेन मुंबई से दिल्ली तक की 1,386 किलोमीटर की दूरी 15 घंटे 35 मिनट में तय करती है, जबकि दिल्ली-मुंबई से इसकी यात्रा में 15 मिनट ज्यादा यानी 15 घंटे 50 मिनट लगते हैं।

भारतीय रेलवे का उद्देश्य पुश-एंड-पुल तकनीक का उपयोग करके 60 मिनट से ज्यादा समय बचाना है।

दिल्ली से मुंबई जाने वाली दिल्ली-मुंबई राजधानी एक्सप्रेस जल्द ही दिल्ली से मुंबई पहुंचने में कम समय लेगी। भारतीय रेलवे का पश्चिमी रेलवे जोन दिल्ली-मुंबई राजधानी एक्सप्रेस की स्पीड बढ़ाने के लिए ‘पुश एंड पुल’ मैथड को लागू करने की योजना बना रहा है, इसलिए कुल यात्रा समय एक घंटे से भी ज्यादा कम हो जाएगा। यह अपनी तरह की पहली पहल है, क्योंकि इस तकनीक को आमतौर पर फ्रेट ट्रेनों में लागू किया जाता है। यह पहली बार है कि इसे यात्री गाड़ियों के लिए अपनाया जाएगा। बढ़ी हुई स्पीड का मतलब है कि अभी राजधानी एक्सप्रेस हजरत निजामुद्दीन दिल्ली से बांद्रा टर्मिनस मुंबई तक पहुंचने में करीब 15 घंटे का समय लेती है, वहीं पुश एंड पुल लागू होने के बाद करीब 14 घंटे लग सकते हैं।

वेस्टर्न रेलवे के चीफ पब्लिक रिलेशंस ऑफिसर रविंदर भाकर ने फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन को बताया कि दिल्ली-मुंबई राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन में ‘पुश एंड पुल’ तकनीक को लागू किया जाएगा, इसमें दो नए इंजन लगाए जाएंगे। एक इंजन इसमें आगे लगेगा, यह ट्रेन खींचेगा, जबकि दूसरा इंजन पीछे लगाया जाएगा। यह स्पीड बढ़ान और घटाने के लिए जरूरी अतिरिक्त शक्ति प्रदान करेगा। यह ट्रेन की स्पीड बढ़ाने और कम करने में भी सहायता करेगा, और यात्रा के समय को कम करेगा। उन्होंने कहा कि इस तकनीक के अन्य फायदे भी हैं। इंजन त्वरण में सुधार के अलावा, यह एक बेहतर टर्नअराउंड टाइम भी प्रदान करता है। ट्रेनें आमतौर पर पूरे रेलवे नेटवर्क में गति प्रतिबंध और स्टॉपपेज के कारण रुकती हैं। धीमा होने से पहले और स्टॉपपेज से पहले और बाद में गति को चुनने में काफी समय लग जाता है। दो इंजनों के साथ इस समय को काफी हद तक कम किया जा सकेगा। इससे पूरी यात्रा में काफी समय बचेगा।

वर्तमान में ट्रेन मुंबई से दिल्ली तक की 1,386 किलोमीटर की दूरी 15 घंटे 35 मिनट में तय करती है, जबकि दिल्ली-मुंबई से इसकी यात्रा में 15 मिनट ज्यादा यानी 15 घंटे 50 मिनट लगते हैं। भारतीय रेलवे का उद्देश्य पुश-एंड-पुल तकनीक का उपयोग करके 60 मिनट से ज्यादा समय बचाना है। भाकर ने यह भी कहा कि नई तकनीक के लिए आवश्यक संशोधन किए गए हैं। नई तकनीक को शामिल करने के साथ राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन के परीक्षण मुंबई-दिल्ली मार्ग में मथुरा और हजरत निजामुद्दीन तक बांद्रा टर्मिनस, मुंबई सेंट्रल स्टेशन से गुजरने के दौरान किए गए हैं। परीक्षण रन सफल रहे और अब वेस्टर्न केवल रेलवे बोर्ड से अंतिम मंजूरी का इंतजार कर रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App