ताज़ा खबर
 

मेट्रो के जैसे होंगे इस शताब्‍दी ट्रेन के कोच, जानिए कब से चलेगी

एक ट्रेन के सारे कंपोनेंट्स मिलकर यह एक सेट की तरह चलता है। इसलिए इसे 'ट्रेन सेट' के नाम से जाना जाता है। साल 2018 में बनने के कारण इसे टी-18 नाम दिया गया है।

इस ट्रेन की पूरी बॉडी खास एल्यूमिनियम की बनी है यानी यह ट्रेन वजन में हल्की भी होगी। (फोटो: एफई)

इंडियन रेलवे यात्रियों को ज्यादा सुविधाएं देने के लिए नई नई तकनीक लेकर आ रही है। वह चाहे फिर IRCTC की नई वेबसाइट हो या फिर ट्रेन और स्टेशन पर मिलने वाली सुविधाएं हों। सभी में सुधार किया जा रहा है। अब इंडियन रेलवे एक नई ट्रेन लेकर आने वाली है। इस ट्रेन के कोच मेट्रो के कोच की तरह होंगे। वहीं इन कोचों में सुविधाएं मेट्रो के कोच से ज्यादा होंगी। रेलवे की चैन्नई की कोच फैक्ट्री में 16 कोच वाली ट्रेन तैयार की गई है। रेलवे ने इस ट्रेन को ट्रेन सेट 18 नाम दिया गया है। इस ट्रेन को भोपाल शताब्दी की जगह चलाया जा सकता है। इसे अक्टूबर के तीसरे सप्ताह में पटरी पर लाया जाएगा और इसका ट्रायल किया जाएगा। इस ट्रेन का ट्रायल पूरा होने के बाद इसे दिसंबर के आखिर या फिर जनवरी के शुरूआत में यात्रियों के लिए चला दिया जाएगा। इस ट्रेन को तैयार करने में करीब 100 करोड़ रुपए का खर्च आया है।

इस ट्रेन की खास बात यह है कि इसमें कोई इंजन नहीं लगा होगा बल्कि इसके कोच में पावर कार लगा होगा। बाकी ट्रेनों की तरह इसके न तो डिब्बे बदले जाते हैं और न ही इसमें इंजन लगा होता है। एक ट्रेन के सारे कंपोनेंट्स मिलकर यह एक सेट की तरह चलता है। इसलिए इसे ‘ट्रेन सेट’ के नाम से जाना जाता है। साल 2018 में बनने के कारण इसे टी-18 नाम दिया गया है। शताब्दी ट्रेनों की जगह लेने वाला टी- 18 जल्द ही ट्रायल के लिए पटरियों पर आ रहा है। वहीं साल 2020 में टी-20 को आम लोगों के लिए पटरियों पर उतारा जाएगा।

इस ट्रेन की पूरी बॉडी खास एल्यूमिनियम की बनी है यानी यह ट्रेन वजन में हल्की भी होगी। इसे तुरंत ही ब्रेक लगाकर रोकना आसान है और इसे तुरंत ही तेज गति भी दी जा सकती है। यह ट्रेन बैठने की बेहतर व्यवस्था से लेकर एक कोच से दूसरे कोच में जाने के लिए पर्याप्त जगह के साथ दिव्यांगों के लिए बेहतर व्यवस्था और कई नई सुविधाओं से युक्त है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App