BR Shetty: वो भारतीय अरबपति बिजनेसमैन, जिसने 45 साल तक ऐश-ओ-आराम की जिंदगी जी, फिर हो गया बर्बाद

1 अगस्त 1942 को कर्नाटक के उडुपी जिले के कापू शहर में जन्में शेट्टी अपने करियर की शुरुआत में मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव का काम करते थे। 31 साल की उम्र में शेट्टी 1973 में 8 डॉलर लेकर काम की तलाश में दुबई पहुंचे थे।

BR Shetty
बीआर शेट्टी ने 1980 में यूएई एक्सचेंज की शुरुआती की थी(फाइल फोटो)।

बीआर शेट्टी उन शख्सियतों में शामिल रहे जिनकी गिनती ऐसे अरबपति बिजनेसमैन में होती है जिन्होंने अपनी मेहनत के दमपर अरबों का साम्राज्य खड़ा किया। लेकिन उनकी सफलता ने साल 2019 आते-आते उनका साथ छोड़ा दिया। बता दें कि शेट्टी की सफलता पर ग्रहण उनकी कुछ गलतियों को माना जाता है। हालात ऐसे हुए कि वो बर्बादी के कगार पर पहुंच गए।

बता दें कि शेट्टी दुनिया के सबसे अमीर कन्नड़ लोगों में शुमार रहे। दुबई में उन्होंने 8 डॉलर से लेकर अरबपति बनने का सफर तय किया। उनकी सबसे बड़ी फार्मास्यूटिकल कंपनी एनएमसी दुनियाभर में स्वास्थ्य सेवा और Hospitality Empire के लिए जानी जाती रही। 1 अगस्त 1942 को कर्नाटक के उडुपी जिले के कापू शहर में जन्में शेट्टी अपने करियर की शुरुआत में मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव का काम करते थे।

1973 में 31 साल की उम्र में शेट्टी 8 डॉलर लेकर काम की तलाश में दुबई पहुंचे थे। वहां उनकी किस्मत ऐसी चमकी कि उन्होंने अपनी मेहनत के दमपर फार्मा बिजनेस शुरू किया। शेट्टी की आलीशान जिंदगी में रोल्स रॉयस, निजी जेट और नौका तक शामिल थी। सफलता मिलने के इस दौर में शेट्टी ने हेल्थकेयर, फाइनेंशियल सर्विसेज, हॉस्पिटेलिटी, फूड ऐंड बीवरेज, फार्मास्यूटिकल मैन्युफैक्चरिंग तथा रियल ईस्टेट के क्षेत्रों में भी अपने व्यापार को बढ़ाया।

बता दें कि बीआर शेट्टी ने 1980 में यूएई एक्सचेंज की शुरुआती की थी। हालांकि बुलंदियों के इस सफर में शेट्टी ने 45 साल तक आलीशान जिंदगी जीने वाले शेट्टी को कारोबार में कुछ गलतियों की वजह से झटके पर झटके मिलने लगे। गौरतलब है कि ब्रिटिश निवेश फर्म मड्डी वॉटर्स ने एक शेट्टी की कंपनी NMC हेल्थ के खातों में अनियमितता को लेकर रिपोर्ट जारी। इसमें एनएमसी के शेयरों को लेकर भ्रष्टाचार के आरोप लगे।

रिपोर्ट में कहा गया कि शेट्टी की कंपनी की कीमत से ज़्यादा सम्पत्ति है। इन आरोपों के बाद शेट्टी की कंपनी के शेयर लगातार गिरने लगे।

एनएमसी को दूसरा बड़ा झटका तब लगा जब एक साइबर हमले के चलते 2018 में बनाई गई शेट्टी की कंपनी Finablr के लोकप्रिय ब्रांडों में से एक- Travelex और NMC को हिलाकर रख दिया। लेकिन कुछ ही महीनों में इस कंपनी के भी शेयर 90 फीसदी तक गिर गए। हालात ऐसे हो गए कि 14 हजार करोड़ से अधिक की मार्केट वैल्यू वाली शेट्टी की कंपनी फिनाब्लर को एक साल के भीतर ही महज 73 रुपये में बेचना पड़ा।

पढें व्यापार समाचार (Business News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट