ताज़ा खबर
 

एशियाई विकास बैंक ने भी जताई जीडीपी में 9 पर्सेंट गिरावट की आशंका, अगले साल ‘अच्छे दिनों’ की बंधाई उम्मीद

बैंक के चीफ इकॉनमिस्ट यासुयुकी सवादा ने कहा, 'भारत ने कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए कड़ा लॉकडाउन लगाया था और इसका असर अर्थव्यवस्था पर बेहद विपरीत रहा है।'

Author Edited By सूर्य प्रकाश नई दिल्ली | Updated: September 15, 2020 11:36 AM
narendra modiपीएम नरेंद्र मोदी

भारत की अर्थव्यवस्था में मौजूदा वित्त वर्ष में 9 पर्सेंट की गिरावट देखने को मिलेगी। एशियन डिवेलपमेंट बैंक ने यह आशंका जताई है। बैंक ने अपने अनुमान में कहा है कि देश में कोरोना के चलते आर्थिक स्थितियां बुरी तरह से प्रभावित हुई हैं और इसका असर ग्राहकों के सेंटिमेंट पर पड़ा है। मांग में कमी आई है और इसके चलते अर्थव्यवस्था में गिरावट का माहौल बना हुआ है। हालांकि बैंक ने अगले वित्त वर्ष 2021-22 में देश की आर्थिक ग्रोथ के 8 पर्सेंट रहने की उम्मीद जताई है। जानकारों का कहना है कि मौजूदा वित्त वर्ष में कमजोर मांग का आधार होने के चलते अगले फाइनेंशियल ईयर में तेजी का माहौल रहेगा।

एशियन डिवेलपमेंट आउटलुक में बैंक ने कहा है कि अगले वित्त वर्ष में कारोबारी गतिविधियों में तेजी आएगी और इससे आर्थिक ग्रोथ में इजाफा होगा। बैंक के चीफ इकॉनमिस्ट यासुयुकी सवादा ने कहा, ‘भारत ने कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए कड़ा लॉकडाउन लगाया था और इसका असर अर्थव्यवस्था पर बेहद विपरीत रहा है।’ जीडीपी में गिरावट की एशियन डिवेलपमेंट की आशंका कई अन्य रेटिंग एजेंसियों के अनुमान के करीब ही है, जिन्होंने देश की अर्थव्यवस्था में गिरावट की भविष्यवाणी की है।

इससे पहले सोमवार को रेटिंग एजेंसी स्टैंडर्ड ऐंड पुअर ग्लोबल रेटिंग्स ने भी मौजूदा फाइनेंशल ईयर में जीडीपी में 9 पर्सेंट की गिरावट की आशंका जताई थी। इससे पहले एजेंसी ने 5 पर्सेंट गिरावट की ही बात कही थी, लेकिन अब इसे बढ़ा दिया है। बता दें कि इस वित्त वर्ष की पहली तिमाही में जीडीपी में 23.9 पर्सेंट की गिरावट आई है। इन आंकड़ों के जारी होने के बाद से ही तमाम एजेंसियों ने भी गिरावट के अपने अनुमान को बढ़ा दिया है।

दरअसल कोरोना काल में देश में निजी निवेश में बड़ी गिरावट देखने को मिली है। इसके अलावा मांग में भी कमी आई है। ऐसे में इन महत्वपूर्ण संकेतकों में गिरावट का सीधा असर जीडीपी के लुढ़कने के तौर पर दिखा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 गौतम अडानी की कंपनी अडानी ग्रीन एनर्जी के शेयर में एक साल में 12 गुना का इजाफा, जानें- क्या रहे कारण
2 बंटवारे के बाद पाकिस्तान गए लोगों की संपत्ति बेच कोरोना संकट में 1 लाख करोड़ रुपये जुटाएगी मोदी सरकार?
3 देश में फिर हुई प्याज की किल्लत, महंगाई के संकट से बचने के लिए मोदी सरकार ने निकाला यह रास्ता
ये पढ़ा क्या?
X