ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान, बांग्लादेश से भी ज्यादा भारत के कर्ज में डूबने की आशंका, जीडीपी के मुकाबले होगा 90 फीसदी

भारत ब्राजील और अर्जेंटीना जैसे देशों के बाद उभरते देशों में सबसे ज्यादा कर्ज वाला देश होगा। दक्षिण एशिया की ही बात करें तो भूटान और श्रीलंका के बाद भारत पर जीडीपी की तुलना में सबसे ज्यादा कर्ज है।

gdp growthजीडीपी के मुकाबले 90 फीसदी तक जा सकता है भारत का कर्ज

जीडीपी के मुकाबले भारत का कुल सरकारी कर्ज 90 फीसदी के बराबर हो सकता है। इंटरनेशनल मोनेटरी फंड वर्ल्ड इकनॉमिक आउटलुक के मुताबिक 2020 में जीडीपी के मुकाबले भारत का कुल कर्ज 89.3 पर्सेंट हो सकता है। इससे पहले 2003 में भारत पर कर्ज जीडीपी के मुकाबले 84.2 पर्सेंट था। यह पहला मौका है, जब भारत पर कर्ज जीडीपी के मुकाबले इतना अधिक होगा। 5 सााल पहले 2015 में भारत का कर्ज जीडीपी के मुकाबले 68.8 पर्सेंट था, जबकि 2019 में यह आंकड़ा 72.3 पर्सेंट ही था। साफ है कि कोरोना संकट में सरकार की आय में बड़ी गिरावट आने और तमाम योजनाओं के लिए कर्ज लेकर खर्च करने के चलते यह स्थिति पैदा हुई है।

इसके चलते भारत ब्राजील और अर्जेंटीना जैसे देशों के बाद उभरते देशों में सबसे ज्यादा कर्ज वाला देश होगा। दक्षिण एशिया की ही बात करें तो भूटान और श्रीलंका के बाद भारत पर जीडीपी की तुलना में सबसे ज्यादा कर्ज है। यही नहीं बांग्लादेश, पाकिस्तान और नेपाल जैसे पड़ोसी देश भी भारत की तुलना में ज्यादा अच्छी स्थिति में हैं।

बता दें कि हाल ही में अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने अपने एक अनुमान में कहा था कि भारत प्रति व्यक्ति जीडीपी के मामले में 2020 में बांग्लादेश से भी पिछड़ सकता है। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष के अनुमान के मुताबिक बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति जीडीपी 2020 में 4 पर्संट की दर से बढ़ते हुए 1,888 डॉलर के लेवल पर पहुंच सकती है। वहीं भारत में प्रति व्यक्ति जीडीपी 10.5 फीसदी की गिरावट के साथ $1,877 तक गिर सकती है।

आंकड़ों के मुताबिक दक्षिण एशिया में द्विपीय देश श्रीलंका के बाद भारत की अर्थव्यवस्था कोरोना संकट से सबसे ज्यादा प्रभावित होगी, जिसकी प्रति व्यक्ति जीडीपी चालू कैलेंडर वर्ष में 4 प्रतिशत गिरेगी। इसकी तुलना में नेपाल और भूटान की अर्थव्यवस्था इस साल बढऩे की संभावना है, जबकि आईएमएफ ने पाकिस्तान के आंकड़े नहीं दिए हैं।

हालांकि अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने अगले साल भारत की तेज रिकवरी का अनुमान लगाया है, जिसकी वजह से 2021 में भारत की प्रति व्यक्ति जीडीपी फिर बांग्लादेश से मामूली अंतर से आगे निकल जाएगी। 2021 में भारत की प्रति व्यक्ति जीडीपी डॉलर के हिसाब से 8.2 प्रतिशत बढ़ने का अनुमान है, जबकि बांग्लादेश की 5.4 प्रतिशत बढऩे का अनुमान है। 2021 में भारत की प्रति व्यक्ति जीडीपी 2,030 डॉलर होगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 7th Pay Commission: कर्मचारी वर्ग के लिए मोदी सरकार ने लिया बड़ा फैसला, पर डीए में इजाफे की उम्मीदों को लगा झटका
2 मारुति सुजुकी के गुजरात स्थित इस प्लांट ने बनाया प्रोडक्शन का रिकॉर्ड, 25 पर्सेंट गाड़ियां यहीं से होती हैं तैयार
3 आत्मनिर्भर भारत पर रघुराम राजन ने दी सरकार को हिदायत, कहा- यह ठीक नहीं, दिया चीन का उदाहरण
यह पढ़ा क्या?
X