ताज़ा खबर
 

Income Tax Return (ITR) Filing Last Date Extended: नरेंद्र मोदी सरकार ने बढ़ाई लास्ट डेट, अब 31 अगस्त तक भरें ITR

Income Tax Return (ITR) Filing Last Date Extended for AY 2019-20: मंगलवार (23 जुलाई, 2019) को यह जानकारी वित्त मंत्रालय के हवाले से समाचार एजेंसी 'पीटीआई-भाषा' ने दी है।

Author नई दिल्ली | July 23, 2019 9:40 PM
Income Tax Return (ITR) Filing Last Date Extended: तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

Income Tax Return (ITR) Filing Last Date Extended for AY 2019-20: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार ने आयकर रिटर्न (आईटीआर) दाखिल करने की लास्ट डेट एक महीना बढ़ा दी है। यानी अब आप 31 अगस्त 2019 तक आईटीआर फाइल कर सकते हैं। मंगलवार (23 जुलाई, 2019) को यह जानकारी वित्त मंत्रालय के हवाले से समाचार एजेंसी ‘पीटीआई-भाषा’ ने दी। बता दें कि पहले आईटीआर फाइल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई, 2019 थी।

मंत्रालय के मुताबिक, “वित्त वर्ष 2018-19 के लिए आईटीआर जमा कराने की आखिरी तारीख 31 अगस्त 2019 की गई है।” इसी बीच, इस साल के लिए केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने नियोक्ताओं के लिए टीडीएस रिटर्न दाखिल करने की डेट भी बढ़ा दी है। कहा जा रहा है कि अगर एक जनवरी से मार्च 31 के बीच आईटीआर फाइल किया गया, तब लेट फाइलिंग फीस के रूप में 10 हजार रुपए वसूले जाएंगे।

ज्यादातर लोगों और एचयूएफ (हिंदू अनडिवाइडेड फैमिली) के लिए आईटीआर दाखिल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई, 2019 थी। यह वह श्रेणी होती है, जिसमें टैक्स संबंधी कारणों के चलते इन लोगों और एचयूएफ के बैंक खातों की ऑडिटिंग किया जाना जरूरी नहीं होता।

itr, itr last date, itr filing, itr filing last date, itr filing last date entended, itr filing last date 2019-20, itr last date extended, income tax return last date, income tax return last date extended, income tax return last date 2019, income tax return last date extended 2019, income tax return filing last date, income tax return deadline, indian express explained, explained news

दरअसल, केंद्र की तरफ से आईटीआर फाइलिंग को लेकर हालिया फैसला चार्टर्ड अकाउंटेंट्स (सीए)/ टैक्स प्रैक्टिश्नर सोसाटियों की दरख्वास्त द्वारा की गई अपील (तारीख बढ़ाने के लिए) के बाद आया है।एक्सपर्ट्स की मानें तो केंद्र के इस फैसले से करदाताओं को राहत मिलेगी।

वित्त वर्ष 2018-19 के लिए स्त्रोत से टीडीएस का प्रमाण-पत्र यानी फार्म-16 देर से आने से आईटीआर की तारीख बढ़ाने की मांग हो रही थी। विभाग ने वित्त वर्ष 2018-19 के लिए नियोक्ताओं के लिये फार्म-16 जारी करने की आखिरी तारीख 25 दिन बढ़ाकर 10 जुलाई की थी, जिससे वेतनभोगी करदाताओं के पास 20 दिन में आईटीआर दाखिल करने का समय बचा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 7th Pay Commission: ग्रेच्युटी में फेरबदल, जानें केंद्रीय कर्मचारियों पर कितना और कैसे पड़ेगा असर
2 ‘निकल जा मेरे घर से!’ क्या सच में ऐसा कर सकते हैं आपके घरवाले? जान लें कानून