ताज़ा खबर
 

जिला मजिस्ट्रेट पर CBI का छापा, नोट गिनने की मशीन मंगाई गई

बुधवार सुबह छह बजे के करीब एक गाड़ी में सवार होकर पहुंची सीबीआइ की छह सदस्यीय टीम ने जिला मजिस्ट्रेट सिंह के घर पर छापा मारा। जिला मजिस्ट्रेट से कई घंटे तक पूछताछ करने के बाद सीबीआइ की टीम अपने साथ कुछ दस्तावेज लेकर दोपहर तीन बजे के करीब वापस लौट गई।

Author बुलंदशहर | July 11, 2019 1:03 AM
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की सरकार में फतेहपुर जिले का मजिस्ट्रेट रहते हुए नियमों को ताक पर रखकर अवैध खनन करवाया था। (Photo- Reuters)

उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव की अगुआई वाली समाजवादी पार्टी की सरकार में हुए खनन घोटाले को लेकर सीबीआइ की टीम ने बुधवार सुबह जिला मजिस्ट्रेट अभय कुमार सिंह के घर पर छापेमार कार्रवाई की। जिला मजिस्ट्रेट सिंह पर आरोप है कि उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की सरकार में फतेहपुर जिले का मजिस्ट्रेट रहते हुए नियमों को ताक पर रखकर अवैध खनन करवाया था। सीबीआइ ने खनन मामले में गड़बड़ी के आरोप में सिंह के खिलाफ रपट दर्ज कर ली है। जांच के दौरान टीम को सिंह के घर से 47 लाख रुपए नकद मिलने की बात कही जा रही है।

बुधवार सुबह छह बजे के करीब एक गाड़ी में सवार होकर पहुंची सीबीआइ की छह सदस्यीय टीम ने जिला मजिस्ट्रेट सिंह के घर पर छापा मारा। जिला मजिस्ट्रेट से कई घंटे तक पूछताछ करने के बाद सीबीआइ की टीम अपने साथ कुछ दस्तावेज लेकर दोपहर तीन बजे के करीब वापस लौट गई। जांच के दौरान टीम ने घर के अंदर मौजूद सिंह और उनके परिवार के लोगों को छोड़कर सभी कर्मचारियों को बाहर निकालने के बाद अंदर से सभी दरवाजे बंद कर लिए।

जिला मजिस्ट्रेट के आवास पर सरकारी अफसरों व सभी लोगों के अंदर जाने पर रोक लगा दी गई। इसके बाद सुबह 11 बजे जिला मजिस्ट्रेट के घर का दरवाजा खुला और एक गाड़ी बाहर निकली। किसी से बात किए बिना ही गाड़ी तेज़ी से निकल गई। हालांकि कुछ देर बाद गाड़ी फिर वापस आकर घर के अंदर गई। इस बार गाड़ी में नोट गिनने वाली मशीन भी थी। गाड़ी के अंदर जाते ही गेट बंद कर दिया गया। बताया गया कि जांच के दौरान टीम को बड़ी संख्या में नकदी मिली जिसे गिनने के लिए मशीन मंगाई गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App