ताज़ा खबर
 

नोटबंदी में भी बढ़ा औद्योगिक उत्पादन, नवंबर में 5.7% बढ़ोतरी

पूंजीगत वस्तुओं का उत्पादन इस बार नवंबर में 15 प्रतिशत बढ़ा, जबकि एक साल पहले समान अवधि में यह 24.4 प्रतिशत घटा था।

Author नई दिल्ली | January 12, 2017 9:43 PM
चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फाइल फोटो)

नोटबंदी के बाद सुस्ती की आशंकाओं को झुठलाते हुए नवंबर में औद्योगिक उत्पाद (आईआईपी) की वृद्धि दर 5.7 प्रतिशत रही। इससे पिछले साल समान महीने में औद्योगिक उत्पादन 3.4 प्रतिशत घटा था। नवंबर में विनिर्माण, खनन और बिजली क्षेत्रों के बेहतर प्रदर्शन तथा पूंजीगत सामान का उठाव बढ़ने से औद्योगिक उत्पादन (आईआईपी) की वृद्धि दर 5.7 प्रतिशत रही। गत आठ नवंबर को नोटबंदी की घोषणा के बाद आशंका जताई जा रही थी कि नकदी संकट से सभी क्षेत्र प्रभावित होंगे। केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय द्वारा गुरुवार (12 जनवरी) को जारी आंकड़ों के अनुसार अक्तूबर, 2016 के लिए आईआईपी के आंकड़ों को मामूली रूप से ऊपर की ओर संशोधित कर शून्य से नीचे 1.8 प्रतिशत कर दिया गया है। पहले इसके शून्य से 1.9 प्रतिशत नीचे रहने का अनुमान लगाया गया था।

आंकड़ों के अनुसार चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-नवंबर की अवधि में औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर 0.4 प्रतिशत रही है, जो एक साल पहले समान अवधि में 3.8 प्रतिशत रही थी। औद्योगिक उत्पादन में 75 प्रतिशत का भारांश रखने वाले विनिर्माण क्षेत्र की वृद्धि दर नवंबर में 5.5 प्रतिशत रही। एक साल पहले समान महीने में विनिर्माण क्षेत्र का उत्पादन 4.6 प्रतिशत घटा था। हालांकि, अप्रैल-नवंबर की अवधि में इस क्षेत्र का उत्पादन 0.3 प्रतिशत घट गया, जो एक साल पहले समान अवधि में 3.9 प्रतिशत बढ़ा था। इसी तरह नवंबर, 2016 में बिजली उत्पादन 8.9 प्रतिशत बढ़ा, जो एक साल पहले समान महीने में 0.7 प्रतिशत बढ़ा था। खनन क्षेत्र का उत्पादन नवंबर में 3.9 प्रतिशत बढ़ा। एक साल पहले इसी महीने यह 1.7 प्रतिशत बढ़ा था।

पूंजीगत वस्तुओं का उत्पादन इस बार नवंबर में 15 प्रतिशत बढ़ा, जबकि एक साल पहले समान अवधि में यह 24.4 प्रतिशत घटा था। इस्तेमाल आधारित वर्गीकरण के हिसाब से नवंबर में मूल वस्तुओं का उत्पादन 4.7 प्रतिशत बढ़ा, जबकि मध्यवर्ती वस्तुओं के उत्पादन में 2.7 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई। टिकाऊ उपभोक्ता सामान तथा गैर टिकाऊ उपभोक्ता सामान क्षेत्र की वृद्धि दर क्रमश: 9.8 प्रतिशत तथा 2.9 प्रतिशत रही। उपभोक्ता वस्तुओं के उत्पादन में कुल वृद्धि 5.6 प्रतिशत की रही। उद्योगों की बात की जाए तो विनिर्माण क्षेत्र के 22 उद्योग समूहों में से 16 में नवंबर, 2016 के दौरान वृद्धि दर्ज हुई।

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा- “GST और नोटबंदी देश की अर्थव्यवस्था को करेंगे मज़बूत”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App