ताज़ा खबर
 

आईडीएस के तहत 5 दिसंबर तक पहली किस्त की अदायगी वाली घोषणाएं वैध

यह योजना 30 सितंबर, 2016 को बंद हुई थी।

Author नई दिल्ली | January 17, 2017 11:10 PM
आयकर भवन

आय घोषणा योजना (आईडीएस) के तहत करों के भुगतान के नियमों में मामूली ढील दी गई है। इसके तहत यदि आईडीएस के तहत कर का भुगतान 5 दिसंबर तक भी किया गया है, तो घोषणा को वैध माना जाएगा। पहले आईडीएस के तहत पहली किस्त के भुगतान की तारीख 30 नवंबर तय की गई थी। सरकार ने घरेलू कालेधन के खुलासे के लिए चार महीने की आय घोषणा योजना शुरू की थी। यह योजना 30 सितंबर, 2016 को बंद हुई थी। इस योजना के तहत घरेलू कालाधन धारकों को अपने बेहिसाबी धन पर 45 प्रतिशत कर और जुर्माना चुकाकर पाक साफ होने का मौका दिया गया था।

प्रमुख आयुक्तों को भेजे निर्देश में आयकर विभाग ने कहा है कि उचित तकनीकी परेशानियों की वजह से पहली किस्त के भुगतान में देरी पर कुछ रियायत दी जाए। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने कहा है कि जिन मामलों में करों का भुगतान 30 नवंबर या उससे पहले की तारीख पर चेक, आरटीजीएस, इलेक्ट्रानिक ट्रांसफर के जरिये किया गया है, लेकिन बैैंकों द्वारा इसे 30 नवंबर के बाद लेकिन 5 दिसंबर से पहले क्रेडिट किया गया है तो उसे वैध घोषणा माना जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App