ताज़ा खबर
 

58 गुजराती अरबपतियों की दौलत मिला दें तो भी मुकेश अंबानी से रहेंगे पीछे

एक हजार करोड़ या उससे ज्यादा की कुल संपत्ति के मामले में गुजरात का देश में चौथा स्थान है। 58 मेगा करोड़पतियों में से 49 के पास कम से कम एक हजार करोड़ की संपत्ति है। ये 49 अरबपति अकेले अहमदाबाद में ही रहते हैं। इन लोगों में शामिल अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी 71,200 करोड़ रुपये की कुल संपत्ति के साथ सूची में शीर्ष पर हैं।

भारत के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी। ( एक्सप्रेस फाइल फोटो)

देश के सबसे अमीर व्यक्तियों में सबसे ऊपर मुकेश अंबानी रईसी के मामले में रिकॉर्ड पर रिकॉर्ड बना रहे हैं। अमीरों की सूची तैयार करने वाली फर्म हुरुन इंडिया के मुताबिक गुजरात के 58 अरबपतियों को मिलाकर भी वे मुकेश अंबानी की रईसी को नहीं छू पा रहे हैं। इन 58 अरबपतियों में से किसी के पास भी 1000 करोड़ रुपये से कम की संपत्ति नहीं है। गुजरात के इन 58 अरबपतियों की कुल संपत्ति मिलाकर 2.54 लाख करोड़ रुपये होती है, जबकि अकेले मुकेश अंबानी की कुल संपत्ति 3.71 लाख करोड़ रुपये हैं। मजे बात यह है कि मुकेश अंबानी भी मूल रूप से गुजराती हैं। एक हजार करोड़ या उससे ज्यादा की कुल संपत्ति के मामले में गुजरात का देश में चौथा स्थान है। 58 मेगा करोड़पतियों में से 49 के पास कम से कम एक हजार करोड़ की संपत्ति है। ये 49 अरबपति अकेले अहमदाबाद में ही रहते हैं। इन लोगों में शामिल अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी 71,200 करोड़ रुपये की कुल संपत्ति के साथ सूची में शीर्ष पर हैं।

अडानी के अलावा गुजरात में अमीरों की सूची में दूसरे नंबर पर जाइडस ग्रुप के पंकज पटेल शामिल हैं जिनकी कुल संपत्ति 32,100 करोड़ रुपये हैं। एआईए इंजीनियरिंग के भद्रेश शाह तीसरे नंबर पर हैं, जिनकी कुल संपत्ति 9,700 करोड़ रुपये है। 9,600 करोड़ रुपये की कुल संपत्ति के साथ करसनभाई पटेल चौथे नंबर पर हैं। टोरेंट ग्रुप प्रमोटर्स समीर एंड सुधीर मेहता के पास कुल 8,300 करोड़ की कुल संपत्ति है, इसके साथ वे पांचवें नंबर पर हैं। गुजरात के सबसे अमीर लोगों की सूची में 10 महिलाओं के नाम भी शामिल हैं, जो निरमा ग्रुप, टोरेंट ग्रुप और इंटस फार्मा जैसे मशहूर कारोबारी परिवारों से ताल्लुक रखती हैं।

हालांकि, पड़ोसी चीन का उदाहरण लें तो अरबपतियों की अनिश्चित स्थिति का अंदाजा लगता है। 2017 में चीन में हफ्ते में 2 जैसे ज्यादा अरबपति अमीरों की सूची में जुड़े लेकिन अरबपति की रैंक में एक कम भी होता गया। बिलेनियर्स इंसाइट्स रिपोर्ट के मुताबिक 106 नए अरबपति सूची में शामिल हुए तो वहीं 51 लोगो के स्टेटस में साल का अंत होते-होते कमी देखी गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App